इतिहास के पन्नों मेंः 16 अक्टूबर

जब उठ खड़ा हुआ पूरा देशः भारतीय इतिहास में 16 अक्टूबर का दिन एक ऐसे इतिहास से जुड़ा है, जो बंगाल के विभाजन का है, तो उसके बाद देश में एक रोमांचकारी राष्ट्रीयता के प्रसार का भी। तब 16 अक्टूबर 1905 को हुआ बंगाल का विभाजन राष्ट्रीयता के इतिहास में एक नया मोड़ ले आया। असल में, बंगाल में विदेशी शासन को चुनौती मिलनी शुरू हो गयी थी। इसी बीच 19 जुलाई,1905 को बंगाल विभाजन की घोषणा हुई, जो 16 अक्टूबर से प्रभावी हुआ। तब बंगाल में ही बिहार और उड़ीसा जैसे राज्य भी शामिल थे और बंगाल को धर्म के आधार पर बांट दिया गया ।

यह अंग्रेजों की ‘फूट डालो और राज करो’ की साजिश का ही परिणाम था। मुस्लिम आबादी को भड़काया जाता रहा कि प्रशासन की दृष्टि से संयुक्त बंगाल में हिन्दुओं का ही प्रभुत्व है। इसके विपरीत आबादी में एक बड़ा समुदाय होने के बावजूद मुस्लिम समुदाय को उसका हक नहीं मिल रहा। लार्ड कर्जन ने विभाजन पर अपनी बात समझाने के लिए खुद चटगांव और मैमनसिंह जैसे जिलों का दौरा किया था। इससे अंग्रेज वायसराय की साजिश का पता चलता है। कुछ थोड़े से मुस्लिम समर्थन पर ही कर्जन अपनी साजिश में सफल रहा। अलग बात है कि बंगाल विभाजन के खिलाफ जल्द ही 1908 में पूरे देश में संगठित बंग-भंग आंदोलन शुरू हो गया। इसके तीन साल बाद 1911 में दोनों तरफ के लोगों के दबाव में बंगाल विभाजन का फैसला वापस लेना पड़ा। इस तरह देश में एक अलग मुस्लिम प्रांत बनाने की अंग्रेजी योजना धराशायी हो गयी।

अन्य प्रमुख घटनाएंः

1788 : मराठों ने शाह आलम को दिल्ली की गद्दी पर बैठाया।

1942 : बंगाल में आए तूफान में 40 हजार लोगों की मौत।

1945 : संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन की स्थापना। तब से विश्व खाद्य दिवस की शुरुआत।

1948 : हिन्दी सिनेमा में ड्रीम गर्ल के नाम से मशहूर हेमा मालिनी का जन्म।

1951: पाकिस्तान की स्थापना में योगदान देने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लियाकत अली की हत्या।

1964 : चीन ने अपने पहले परमाणु बम का परीक्षण किया।

1968 : हरगोविंन्द खुराना को मेडिसिन के लिए नोबेल पुरस्कार मिला।

1978 : कपिल देव ने फैसलाबाद टेस्ट से अपने क्रिकेट जीवन की शुरूआत की।

1999 – अमेरिका ने सैन्य शासन के विरोध में पाकिस्तान पर प्रतिबन्ध लगाया।

2002 – स्वर्ण और कांस्य पदक विजेता भारत की सुनीता रानी का पदक 14वें एशियाई खेलों में डोपिंट टेस्ट में असफल रहने के बाद छीना गया।

2003 – मलयाली फिल्मकार अडूर गोपाकृष्णन को फ्रांस का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान मिला।

2005 – जी-20के देश विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष में सुधार के लिए सहमत।

2011- भारतीय मूल के धावक 100 वर्षीय फौजा सिंह ने टोरंटो वाटर फ्रंट मैराथन पूरा कर नया कीर्तिमान स्थापित कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया।

2012 – सौर मंडल के बाहर एक नये ग्रह ‘अल्फा सेंचुरी बीबी’ का पता चला।

2013 – लाओ एयरलाइंस के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से 49 लोगों की मौत।