इतिहास के पन्नों मेंः भारत कुमार का जन्म

हिंदी फिल्मों के जाने-माने अभिनेता मनोज कुमार का जन्म 24 जुलाई 1937 को एबटाबाद (अब पाकिस्तान) में हुआ। देश के विभाजन के समय जब वे 10 वर्ष के थे तो उनका परिवार भारत आकर शुरुआत में दिल्ली के शरणार्थी कैंपों में रहा। उनका पूर्व का नाम हरिकिशन गिरी गोस्वामी था लेकिन अशोक कुमार एवं दिलीप कुमार से प्रभावित होकर अपना नाम बदलकर मनोज कुमार रखा।

प्रसिद्ध अभिनेता, फिल्म निर्माता व निर्देशक के रूप में मनोज कुमार का फिल्मी करियर 1957 में आयी फिल्म ‘फैशन’ से शुरू हुआ। आगे चलकर उन्होंने कई यादगार फिल्में दीं। उन्हें देशभक्ति से जुड़ी फिल्मों के लिए याद किया जाता है। शहीद-ए-आजम भगत सिंह से प्रभावित मनोज कुमार ने ‘शहीद’ जैसी अविस्मरणीय फिल्म बनायी। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की प्रेरणा से ‘उपकार’ बनायी जो शास्त्री जी के दिये नारे जय जवान-जय किसान पर आधारित थी। एक देशभक्त अभिनेता एवं फिल्म निर्माता की पहचान रखने वाले मनोज कुमार ने कई हिट फिल्में दीं जिनमें ‘हरियाली और रास्ता’ ‘वो कौन थी’ ‘पूरब और पश्चिम’ ‘हिमालय की गोद में’ ‘गुमनाम’ ‘पत्थर के सनम’ ‘क्रांति’ शामिल हैं। उन्हें फिल्म ‘उपकार’ के लिए नेशनल अवॉर्ड मिला। 1992 में मनोज कुमार को पद्मश्री और 2016 में उन्हें दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

अन्य अहम घटनाएंः

1793ः फ्रांस ने कॉपीराइट कानून बना।

1823ः चिली में दास प्रथा समाप्त ।

1870ः अमेरिका में पहली रेल सेवा की शुरुआत।

1932ः रामकृष्ण मिशन सेवा प्रतिष्ठान की स्थापना।

1969ः अपोलो-11 अंतरिक्ष यान पृथ्वी पर वापस लौटा।

2000ः एस विजयलक्ष्मी शतरंज की पहली महिला ग्रैंडमास्टर बनीं।