इतिहास के पन्नों मेंः भारतीय तैराक ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

भारतीय तैराक ने बनाया विश्व रिकॉर्डः 12 सितंबर, 1966 को एक भारतीय तैराक ने विश्व रिकॉर्ड बना डाला। रिकॉर्ड डारडनेल्स जलडमरूमध्य को तैरकर पार करना था। पेशे से वकील, पर शौक और जुनून से महान तैराक बने मिहिर सेन लंबी दूरी के बेहतरीन तैराक माने जाते हैं। मिहिर सेन ने 1966 में ही 40 मील में फैले पाक जलडमरूमध्य को तैरकर पार किया। इस रिकॉर्ड के पहले उन्होंने 27 सितंबर, 1958 को 14 घंटे 45 मिनट में इंग्लिश चैनल को पार कर डाला। मिहिर सेन ने जिब्राल्टर जलडमरूमध्य को भी तैरकर पार किया। जिब्राल्टर जलडमरूमध्य मोरक्को और स्पेन के बीच है। पांच महाद्वीपों के सातों समुद्रों को तैरकर पार करने वाले मिहिर सेन विश्व के प्रथम व्यक्ति हैं। इन उपलब्धियों के चलते मिहिर सेन का नाम गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। अपने देश की सरकार ने उन्हें 1959 में ‘पद्मश्री’ और 1967 में ‘पद्मभूषण’ प्रदान किया।

अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं

1217: फ्रांसीसी सम्राट लुइस ने ब्रिटेन के महाराज हेनरी तृतीय से शांति समझौता किया।
1398: तैमूर लंग सिंधु नदी के तट पर पहुंचा।
1786: लॉर्ड कॉर्नवॉलिस भारत का गर्वनर जनरल बना।
1873 : पहले टाइपराइटर की बिक्री शुरू।
1928: फ्लोरिडा में भीषण तूफान से 6000 लोगों की मौत।
1909: जर्मन रसायशास्त्री र्फिट्स हॉफमैन ने सिंथेटिक रबर का पेटेंट हासिल किया।
1959 : तत्कालीन सोवियत संघ का रॉकेट ‘लूना 2’ चांद पर पहुंचा।
2001 : अमेरिका ने आतंकवाद के खिलाफ जंग का ऐलान किया।