इन परिस्थितियों में गलती से भी ना खाए पपीता, वरना बढ़ जाएगी समस्या

जैसा की हम जानते है कि पपीता सेहत के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद माना जाता है..चाहे आप सलाद में खाए या फिर जूस के रूप में,इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन पाए जाते हैं जो शरीर को कई बीमारियों से दूर रखने का काम करते हैं..रोजाना कच्चे पपीते का सेवन करने से पेट से लेकर कैंसर तक की बीमारियां दूर हो जाती है. इस फल के लगभग हर हिस्से का उपयोग किया जा सकता है. यदि आप सोचते हैं कि पपीता खाने से सिर्फ फायदा ही होता है तो आप गलत सोच रहें हैं। क्या आप जानते हैं पपीता खाने के कई नुकसान भी हो सकते हैं..इस ऑलराउंडर फ्रूट के कुछ महत्वपूर्ण दुष्प्रभाव भी हैं, जिन्‍हें जानना आपके लिए बेहद जरूरी है. आज हम आपको बताएंगे क्यों पपीता आप के लिए सबसे अच्छा फल नहीं हो सकता..किन लोगों को पपीता नहीं खाना चाहिए..

Image result for papaya

पपीते के सेवन से गर्भपात का खतरा

पपीते के बीज और जड़ भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकते हैं. पपीते में लेटेक्स की हाई मात्रा होती है जो गर्भाशय सिकुड़न का कारण बन सकती है. पपीते में मौजूद पपेन शरीर की उस झिल्ली को नुकसान पहुंचा सकता है जो भ्रूण के विकास के लिए आवश्यक है.कच्चे या आधे पके हुए पपीते में लैटेक्स की अधिकता होती है, जो कि गर्भाश्य को नुकसान पहुंचाता है.गर्भवती महिलाओं को पपीता और अनानास खाने से बचना चाहिए.

Image result for papaya

ब्‍लड शुगर हो सकता है कम

मधुमेह रोगियों के लिए भी पपीते का सेवन नुकसानदेह हो सकता है। पपीता ब्‍लड शुगर के लेवल को कम कर सकता है, जो डायबिटीज रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है। ऐसे में अगर आप मधुमेह के रोगी हैं, तो डॉक्टर से सलाह लेना हमेशा सर्वोत्तम रहेगा.

पेट ख़राब करने का बन सकता है कारण 

पपीते में भारी मात्रा में फाइबर पाया जाता है. कब्‍ज होने पर ये आपको फायदा दे सकता है. लेकिन ये आपका पेट खराब भी कर सकता है. इसके अलावा, पपीते की बाहरी त्वचा में लेटेक्स होता है, जो पेट को अपसेट कर सकता है और पेट दर्द का कारण भी बन सकता है.

श्वसन रोग में न खाएं पपीता

अगर आपको सांस की बीमारी है तो अधीक मात्रा में पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। इसकी वजह से दमा या अस्थमा का अटैक हो सकता है। सांस लेने की तकलीफ बढ़ सकती है। इसलिए सांस के मरीजों को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आपको भी इस तरह की कोई परेशानी है तो पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। 

ब्लडप्रेशर रोगियों के लिए नुकसान

पपीता बीपी रोगियों के लिए नुकसान दायक साबित हो सकता है। इसलिए यदि आप बीपी को कंट्रोल करने के लिए दवा ले रहे हैं  तो पपीता खाना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। 

फूड पाइप

आप पपीते को अच्छा फल मानते हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आप इसका सेवन बहुत अधिक मात्रा में करेंगे। ज्यादा मात्रा में पपीते के सेवन से आपके फूड पाइप को चोट पहुंच सकती है। एक दिन में एक से अधिक पपीते का सेवन करने से बचें। 

एलर्जिक रिएक्शन होने की संभावना

पपीते में मौजूद पपेन से एलर्जी होने की आशंका होती है. इसके अधिक सेवन से रिएक्‍शन के तौर पर सूजन, चक्कर आना, सिरदर्द, चकत्ते और खुजली जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं.कच्चा पपीता खाने से बचना चाहिए क्योंकि पपीते में उपस्थित लेक्टस नाम का एंजाइम एलर्जी की समस्या पैदा कर सकता है.

इन लोगों को भी नहीं खाना चाहिए पपीता

किडनी स्टोन या पथरी के मरीजों को पपीता खाने से बचना चाहिए

कैरोटेनेमिया नामक रोग से ग्रसित लोगों के पपीता खाने पर उन्हें स्किन से जुड़ी समस्या हो सकती है

बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिलाओं के पपीता खाने पर मां और बच्चे पर गलत असर पड़ता है

तो इस लेख में हमने आपको बताया कि पपीता किन किन परिस्थितियों में नुक़सानदायक साबित हो सकता है..ऐसे में अगर आपको कोई बीमारी है, तो डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें. आहार में किसी भी तरह के बदलाव से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें. डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही अपने आहार में बदलाव करें.