गर्मी ने इस साल तोड़े रिकॉर्ड, राजधानी दिल्ली समेत इन राज्यों में लू ने बढ़ाई परेशानी!

एक तरफ कोरोना वायरस से देश परेशान है वहीँ इस गर्मी भी अपने रिकॉर्ड को तोड़ने पर आतुर हैं. जी हाँ. राजधानी दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश, हरियाणा और कई राज्य लू से परेशान है. यहाँ का तापमान सामान्य से ऊपर चला गया है. कई जगहों पर तापमान में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है.

वहीँ मिली रही जानकारियों के मुताबिक मैदानी राज्यों में इस प्रचंड गर्मी से किसी प्रकार की राहत मिलने की संभावना कम से कम अगले 4-5 दिन नहीं है. इस दौरान ना तो कोई सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ आएगा और ना ही बंगाल की खाड़ी या अरब सागर से आर्द्र हवाएं पहुंचेगी. यानि समूचे उत्तर पश्चिम भारत में गर्मी अपने चरम पर होगी. कई इलाके ऐसे हो सकते हैं जहां तापमान 46 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है.

तेज गर्मी में बरतें सावधानी, इससे हो सकता है खतरा 

तेज़ गर्मी, लू और चिलचिलाती धूप के कारण हीट स्ट्रोक का खतरा है. ऐसे में घर से बाहर निकलते समय बेहद एहतियात बरतने की जरूरत है. जब भी घर से निकले पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं और अपने बदन को पूरी तरह से ढक कर रखें.

23 मई को राजस्थान के चुरू में अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री, गंगानगर में 46.6 डिग्री, हिसार में 46 डिग्री, पिलानी में 46 डिग्री, बीकानेर में 45.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। दिल्ली के पालम में भी पारा 45.4 डिग्री पहुँच गया.

लू वाले क्षेत्रों के लोग गर्मी से परेशान है. बाजार में कूलर की बिक्री बढ़ गयी है और सडकों पर निकलते वक्त लोग चेहरे को ढकना नही भूल रहे हैं. हालाँकि इस दौरान आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि कहीं आपके शरीर में पानी की कमी ना होने पाए. इसके लिए आप लगातार पानी पीते रहे हैं और हो सके तो नीबू पानी पीते रहे.  धूप में जाने से बचिए क्यों आने वाले 5 से आठ दिनों तक आपको गर्मी से राहत मिलने वाली नही है.