भारत-चीन विवाद: लोगों का चीन के खिलाफ प्रदर्शन जारी, रक्षा मंत्री ने की बड़ी बैठक

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ने के बाद लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल यानी LAC पर 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद पूरा देश गुस्से से उबल रहा है. ऐसे में देश के कोने-कोने से प्रदर्शन करने की खबरें आ रही है. इस प्रदर्शन में चीन की धोखेबाजी का बदला लेने की मांग की जा रही है. राजधानी दिल्ली में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया तो वही कोलकाता में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.

दिल्ली स्थित चीनी दूतावास के बाहर स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया. इतना ही नही इस प्रदर्शन में आर्मी के रिटायर जवान भी शामिल थे..इस दौरान प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने बुहत रोकने की कोशिश की, लेकिन वे पीछे नहीं हटे. जिसके बाद प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया है. यहां प्रदर्शन को देखते हुए सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है.

इस बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन विवाद को लेकर बड़ी बैठक की है. साथ ही राजनाथ सिंह ने विदेश मंत्री पर भी इस विवाद पर बातचीत की है. आज बुधवार को ट्विटर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपना बयान जारी किया है. राजनाथ सिंह ने लिखा है कि, गलवान घाटी में सेना के जवानों ने अपना फर्ज निभाते वक्त जान दे दी, देश उनके इस बलिदान को कभी नहीं भूल पाएगा.

हालांकि सूत्रों के मुताबिक इस झड़प में चीन को भी काफी नुकसान हुआ है. दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है. इस विवाद को कूटनीति के स्तर पर सुलझाने की कोशिश जारी है.