आखिर क्यों आपस में भिड़ गयीं भारतीय और चीनी सेना, हो रही है बड़ी बैठक

चीन और भारत के तनाव के बीच बड़ी खबर सामने आ रही है कि दोनों देशों के सैनिकों के बीच झडप हो गयी है. खबर मिल रही है कि भारत के तीन और चीन के पांच शहीद हो गये हैं. खबर के मुताबिक इस झड़प में दोनों देशों की तरफ से गोलियां नही चलाई गयी हैं भारत और चीन के प्रमुख जनरलों ने कल रात हिंसक झड़प होने के बाद गालवान घाटी, लद्दाख और अन्य क्षेत्रों में स्थिति को ठीक करने के लिए बात कर रहे हैं. सेना ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, ‘गलवान घाटी में तनाव कम करने की प्रक्रिया के दौरान सोमवार रात हिंसक टकराव हो गया. इस दौरान भारतीय सेना का एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए.’

वहीँ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों और विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ बैठक की. इस दौरान पूर्वी लद्दाख के हाल के घटनाक्रमों पर चर्चा की गई. प्रधानमंत्री को स्थिति के बारे में जानकारी दी गई है और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के दौरान पीएम के साथ रहेंगे.

भारतीय सेना की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई. इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं. दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं’.

चीनी विदेश मंत्रालय का आधिकारिक बयान सामने आया है. बीजिंग ने उलटे भारत पर घुसपैठ करने का आरोप लगाया है. अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, बीजिंग का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने बॉर्डर क्रॉस करके चीनी सैनिकों पर हमला किया था. चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत ऐसी स्थिति में एकतरफा कार्रवाई ना करे. आपको बता दें कि भारत और चीन के बीच मई महीने की शुरुआत से ही लद्दाख बॉर्डर के पास तनावपूर्ण माहौल बना हुआ था.. जिसके बाद बातचीत का दौर चल रहा है लेकिन अब एक बार फिर दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प की ख़बरें सामने आ रही हैं.