दिलचस्प कहानी : डेढ़ साल से जल रहा है ये पेड़, वैज्ञानिक भी देखकर हैरान

ऐसी खबरे तो आपने बुहत सुनी होगी कि जंगल में आग लगने के बाद कई बार महीनों तक आग सुलगती रहती है..लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि कोई पेड़ आग लगने के बाद सालों तक सुलगता रहा हो? शायद नहीं सुना होगा, तो आपको हम इस वीडियो में एक ऐसे ही पेड़ के बारे में बताने जा रहे है जो इन दिनों खुब सुर्खियां बटोर रहा है.

इन दिनों इस पेड़ की खुब चर्चा हो रही है. चर्चा ये कि एक पेड़ कैसे पिछले डेढ़ साल से लगातार जल रहा है..इस खबर के बाद जैसे आप चौंक रहे है वैसे ही ठीक हम भी चौंक गए थे..यहां तक की वैज्ञानिक और फायर फाइटर्स भी हैरान है.

कैलिफोर्निया के जंगल में इस पेड़ को खोजा गया है. अमूमन कोई भी पेड़ आग लगने के बाद ज्यादा से ज्यादा 2 या 3 दिन में जल कर राख हो जाता है. वहीं कैलिफोर्निया का ये पेड़ पिछले डेढ़ साल से आग में जल रहा है.जिसे देखकर हर कोई हैरान है.

बता दें कि 2020 में कैलिफोर्निया के जंगलों में भीषण आग लगी थी. इस आग ने जंगल में डेढ़ लाख एकड़ जमीन पर फैले लाखों पेड़ों को जला कर राख कर दिया था. लेकिन हैरानी की बात ये कि करीब डेढ़ साल पहले लगी इस आग के चलते यहां का एक पेड़ आज भी सुलग रहा है.

ये हैरान करने वाला पेड़ मई महीने में ही खोजा गया. जब नेशनल पार्क सर्विस स्टाफ का एक दल पिछले साल लगी जंगल में आग से हुई तबाही का जायजा लेने पहुंचा. इस दौरान उन्होंने जब सिकुआ के एक पेड़ को देखा, तो उन्हें पहले तो अपनी आंखों पर यकीन नहीं हुआ. इस पेड़ से धुंए के ऊंचे-ऊंचे गुब्बारे ऊपर आसमान में उठ रहे थे, लेकिन जब उन्होंने इसकी जांच करने के लिए लॉन्ग कैमरा लेंस से देखा तो पता चला सिकुआ का ये पेड़ काफी पुराना है, जिसमें से अब तक धुआं निकल रहा है. यानी बीते डेढ़ साल से ये आग में सुलग रहा है.

वैज्ञानिकों ने इसकी जांच करके बताया कि सिकुआ का ये पेड़ सालों पहले लगाया गया था, जो पिछले साल लगी आग में पूरी तरह से तो नहीं जला लेकिन ये अब तक सुलग रहा है. पेड़ अब भी गिरा नहीं है और इसके अंदर के अंगारे उसे धीरे-धीरे जला रहे हैं. वैज्ञानिकों का कहना है कि पानी और बारिश से ये पेड़ ऊपर से नहीं जल पाया है. इस इलाके में सर्दियों के समय काफी बर्फबारी होती है. इसी बर्फबारी ने इस पेड़ को पूरी तरह जलने से बचाया है.

आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि सिकुआ के नए पेड़ के उगने में आग का महत्वपूर्ण योगदान होता है. विशेषज्ञों के मुताबिक जब जब आग की लपटें पेड़ की शाखाओं और कोन पर पहुंचती हैं तो यहां जमी नम शेल पिघलती है और इसके खुलने के बाद सैकड़ों सिकुआ के बीच जमीन पर बिखर जाते हैं, जिससे नए पेड़ तैयार होते हैं. यही बीज आगे चलकर नए पेड़ के रूप में तैयार होते हैं. बता दें कि इस पेड़ का वैज्ञानिक नाम जिआंट सेकअुआ है. सिकुआ के इस पेड़ की चर्चा हर ओर हो रही है.

आ का ये पेड़ इस वक्त चिंता का विषय बना हुआ है, जो डेढ़ साल से जल रहा है. वैज्ञानिकों का कहना है कि पेड़ का इस तरह सुलगना ये दिखाता है कि कैलिफोर्निया के इस खास इलाके में कितनी ज्यादा गर्मी और सूखा है. अगर कभी गलती से भी यहां दोबारा चिंगारी फैलती है तो यहां आग भयानक रूप ले सकती है.