जैक की 10वीं और 12वीं की परीक्षा रद्द, मुख्यमंत्री ने लिया निर्णय

रांची: झारखंड अधिविद्य परिषद द्वारा इस वर्ष आयोजित होने वाली 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए झारखंड एकेडमिक काउंसिल, जैक द्वारा इस सत्र में आयोजित होने वाली 10वीं और 12वीं परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया है। इससे पहले कोरोना संक्रमण के कारण सीबीएसई, सीआइएससीई सहित कई राज्यों की 10वीं और 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद यह तय माना जा रहा था कि जैक की परीक्षा भी रद्द हो जाएगी। इसे लेकर छात्रों और उनके अभिभावकों की ओर से लगातार परीक्षा रद्द करने की मांग की जा रही थी। जैक की इस साल 10वीं और 12वीं की परीक्षा में सात लाख 65 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं को शामिल होना था।

इसमें 10वीं बोर्ड की परीक्षा में 4.32 लाख और 12वीं बोर्ड की परीक्षा में 3.31 लाख परीक्षार्थी शामिल है। परीक्षा नहीं होने की स्थिति में सरकार द्वारा निर्धारित मापदंड के अनुसार सभी परीक्षार्थियों का रिजल्ट जारी किया जाएगा। इससे पहले जैक बोर्ड की ओर से 9वीं और 11वीं की परीक्षा को भी रद्द करते हुए सभी विद्यार्थियों को 10वीं और 12वीं में प्रोन्नत कर दिया गया था। बताया गया है कि अभी जो विद्यार्थी 10वीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल हो रहे हैं, उनकी कक्षा आठवीं और नौवीं की परीक्षा जैक ने ली है। दोनों ही परीक्षा में बोर्ड परीक्षा की तरह ही प्रवेश पत्र जारी हुआ था। इसी तरह से कक्षा 12वीं का रिजल्ट भी 10वीं और 11वीं के रिजल्ट के आधार पर लिया जा सकता है। इस संबंध में जल्द ही जैक द्वारा निर्णय ले लिये जाने की संभावना है।