झारखंड में सैनिटाइजर और मास्क की हो रही है कालाबाजारी, भाजपा का बड़ा आरोप

एक तरह जहाँ पूरे भारत में इस बात की चिंता है कि कोरोना वायरस से कैसा बचा जाए. वहीँ दूसरी तरफ झारखंड की कहानी एक दम उल्टा दिखाई दे रही है. दरअसल झारखंड सरकार ने कहा कि प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस का कोई भी मरीज सामने नही है.. ऐसे में राज्य में स्कूल. मॉल और सिनेमा हॉल बंद करने की अभी कोई आवश्यकता नही है. इसी पर अब बीजेपी ने जबरदस्त तरीके हमला बोला है.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने झारखंड सरकार से मांग की है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से मौत का इंतजार न करे. गठबंधन सरकार इसे रोकने के लिए जल्द से जल्द एहतियाती कदम उठाये. साथ ही सैनिटाइजर और मास्क की कालाबाजारी रोकने के लिए भी सरकार कार्रवाई करे. भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शहदेव ने कहा कोरोना वायरस जैसी आपदा से निबटने के लिए राज्य में बड़े पैमाने पर एहतियाती कदम उठाये जाने की जरूरत है. सरकार ने गैरजिम्मेदाराना तरीके से कहा है कि चूंकि कोरोना वायरस का कोई भी पॉजिटिव मामला झारखंड में अभी सामने नहीं आया है, इसलिए अभी शिक्षण संस्थानों, शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल, पार्क को बंद करने की आवश्यकता नहीं है.

दरअसल मिली जानकारी के मुताबिक झारखंड में महज 30-40 रूपये में मिलने वाला मास्क आज 100 रूपये में मिल रहा है और जो सैनिटाइजर  80 रूपये का मिलता है वो आज 250 का मिल रहा है. ऐसे में झारखण्ड सरकार को इसके बारे में कार्रवाई करने की आवश्यकता है.