झारखंड: भारी बारिश से राजधानी रांची में नगर निगम की खुली पोल, राज्य के सबसे बड़े अस्पताल में घुसा पानी

खबर झारखण्ड के राजधानी रांची से है. जहाँ बारिश और निगम की लापरवाही के चलते पूरा शहर अस्त व्यस्त हो गया है. गुरुवार की रात से राजधानी रांची में लगातार बारिश हो रही है जिसके कारण शहर के कई इलाकों में पानी भर गया है. कई अपार्टमेंटों में पानी घुस गया है. सड़कें नाला बनी हुई हैं. रिम्स अस्पताल का पहला तला पूरा पानी से भर गया है. पुलिस लाइन में भी पानी भरा हुआ है.

रांची के हरमू रोड से कटहल मोर एनएच हाईवे की तरफ जाने वाली रोड पर 1 फुट पानी भर गया है जिस कारण वहां के निवासी निकलकर रोड पर प्रदर्शन कर रहे हैं. पिछले दिनों से हो रही लगातार बारिश से हरमू नदी का जलस्तर बढ़ गया है. भारी बारिश के कारण जेएससीए क्रिकेट स्टेडियम को प्लास्टिक से ढकना पड़ा है.

आलम ये है कि राज्य के सबसे बड़ा अस्पताल माने जाने वाले रिम्स की तस्वीरे रांची नगर निगम की पोल खोल रही है.

हां ये रिम्स मेडिकल कॉलेज की तस्वीर है जिसके ग्राउंड फ्लोर में पानी घुस गया है.

राजधानी रांची में भारी बारिश से सबसे ज्यादा पंडरा, पंचशील नगर, कटहल मोड़, विद्या नगर,गंगा नगर पुलिस लाइन स्थित पुलिस क्वाटर प्रभावित हुआ है.यहां घुटनों तक पानी भर गया है.  बता दें कि रांची नगर निगम ने दावा किया था कि बरसात से पहले ही नाले और नालियों की सफाई करा ली गई है. लेकिन इस बारिश ने इस दावे की पोल खोल दी है.

लोग नगर निगम को फोन कर जलभराव खत्म करने के लिए मशीन की मांग करते रहे. लेकिन ज्यादातर इलाकों में उनकी मशीन नहीं पहुंची. इसलिए नगर निगम के प्रति लोगों में नाराजगी है. मौसम विभाग का मानना है कि अभी एक अगस्त तक राज्य में बादल छाए रहेंगे और बरसात होती रहेगी. अब ऐसे में नगर निगम को इस स्थिति से निपटने के लिए कमर कसनी होगी. मौसम वैज्ञानिकों ने किसानों से अपील की है कि मौसम खराब होने पर पेड़ के नीचे नहीं रहें, तत्काल किसी सुरक्षित स्थान पर पहुंच जाएं. इसके अलावा सभी लोगों से मौसम खराब होने पर सुरक्षित स्थान में रहने की अपील की गई है.