ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए रेलवे ने जारी किये नियम, पढ़े लें वरना होगी परेशानी

भारतीय रेल (Indian Rail) ने रविवार को कहा कि उसकी योजना 12 मई से चरणबद्ध तरीके से यात्री ट्रेन सेवाएं शुरू करने की है, और शुरुआत में चुनिंदा मार्गों पर 15 जोड़ी ट्रेनें (अप-एंड-डाउन मिलाकर 30 ट्रेनें) चलायी जाएंगी. साथ ही रेलवे ने कहा कि इन ट्रेनों में सीटें आरक्षित कराने वाले यात्रियों को प्रस्थान के समय से कम से कम एक घंटा पहले रेलवे स्टेशन पहुंचना होगा. यात्रा करने से पहले आप रेलवे के इन नियमों को ध्यान से पढ़ लें, वरना हो सकती है परेशानी!

यात्रियों को ट्रेन के समय से 2 घंटे पहले स्‍टेशन पहुंचना होगा.

जिन पैसेंजर्स के पास वैलिड और कंफर्म टिकट होगा, उन्हें रेलवे स्टेशन पर जाने की अनुमति दी जाएगी.

सभी पैसेंजर्स के लिए अनिवार्य होगा कि वो मास्क लगाएं. यात्री गमछे का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

प्रस्थान से पहले यात्रियों को स्क्रीनिंग से गुजरना होगा.

सभी पैसेंजर्स को सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा.

जिन पैसेंजर्स में कोरोना के लक्षण नहीं होंगे, उन्हें ट्रेन पर बैठने की इजाजत होगी.

सभी यात्रियों के लिए मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा. इसके बिना बोर्डिंग नहीं मिलेगी.

ट्रेन में कंबल और चादर की सुविधा यात्रियों को नहीं मिलेगी. क्योंकि रेलवे ने कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते इस सुविधा को बंद कर दी है.

सफर के रास्ते में खाने-पीने का कोई सामान नहीं मिलेगा.

टिकट बुकिंग में किसी भी तरह की रियायत नहीं मिलेगी.