जानिये 24 दिसंबर का इतिहास, भारत के लिए इसके हैं कई ख़ास मायने

24 दिसंबर का दिन भारत के लिए बेहद ख़ास है .. 24 दिसंबर को ही वास्को दी गामा जिसने भारत की खोज की थी उसका निधन हुआ था… 24 दिसंबर को ही भारतीय एयरलाइन्स को आतंकियों ने अगवा किया था, जिसके बदले तीन आतंकियों को रिहा किया गया था जो आज भी पाकिस्तान की धरती पर जिन्दा है.  और आज ही के दिन दिन यानि 24 दिसंबर को ही भारत के बड़े गायकों में गिने जाने वाले मोहम्मद रफ़ी का जन्म हुआ था..

आइये अब इन सभी बातों पर विस्तार से बात करते हैं..

वास्‍को डी गामा ने 1498 में भारत को तलाशा था और पूरी दुनिया को इसकी जानकारी दी थी। वास्को डी गामा एक पुर्तगाली सैनिक था। वो अफ्रीका होते हुए भारत पहुंचा और अपने पूरे जीवन में तीन बार भारत आया। उसने कई लड़ाइयां लड़ी और गोवा में लोगों का धर्मांतरण भी किया. 24 दिसंबर 1524 को यानि आज ही के दिन भारत के कोच्चि में ही वास्को डी गामा का निधन भी हुआ था।

 

दुनिया से सालों पहले विदा लेने वाले मोहम्मद रफ़ी का जन्म 24 दिसंबर 1924 को अविभाजित भारत में पंजाब के कोटला सुल्तान सिंह गांव में हुआ था। देश के विभाजन के दौरान जो दंगे हुए उसमें रफ़ी के माता पिता भी मारे गए थे। इसके बाद उनकी पहली पत्‍नी ने पाकिस्‍तान जाने का फैसला किया जबकि रफी भारत में ही रुक गए। यहां पर उन्‍होंने बाद में दूसरी शादी की। उन्‍होंने पहली बार 1944 में पंजाबी फिल्म गुल बलोच में गाने का मौका मिला था इसके बाद उनके कैरियर को उड़ान मिली थी..

आज ही के दिन यानि कि 24 दिसंबर के दिन जब भारत समेत पूरी दुनिया क्रिसमस की तैयारी कर रही थी तभी एक खबर ने ख़ुशी में खलल डाल दिया था और वो खबर थी…कि कुछ आतंकियों ने इंडियन एयरलाइंस के विमान IC-814 का अपहरण कर लिया है. ये विमान काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट से नई दिल्‍ली की उड़ान पर था। इसमें हरकत उल मुजाहिद्दीन के आतंकियों का हाथ था। अपहरण के समय इस विमान में 176 पैसेंजर समेत क्रू के कुल 15 सदस्‍य भी थे। विमान को अपहरण कर पहले इसे पाकिस्तान ले जाने का फैसला किया था इसके बाद इस विमान को कंधार एअरपोर्ट पर उतारा गया था.. आतंकियों की मांग के अनुरूप भारत सरकार को तीन आतंकी रिहा करने पड़े थे जो आज भी पाकिस्‍तान में मौजूद हैं.

इसके आलवा 24 दिसंबर 1986 को भारत में संसद द्वारा उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम पारित किया गया. इसलिए भारत में 24 दिसंबर को राष्ट्रिए उपभोक्ता दिवस के रूप में मनाया जाता है. आज ही के दिन 2000: विश्वनाथन आनंद विश्व शतरंज चैंपियन बने. 24 दिसंबर 1959 भारतीय अभिनेता अनिल कपूर का जन्मदिन भी है.