जानिये ठण्ड को लेकर मौसम विभाग ने क्या की है भविष्यवाणी? यहाँ जानिये पूरी अपडेट

पहाड़ी क्षेत्रों में ताजा बर्फबारी के बाद उत्तर भारत में शीत लहर का प्रकोप और बढ़ गया है. बुद्धवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान तापमान लुढ़कर 3.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया जिसके कारण ठंड और अधिक बढ़ गयी . मौसम विभाग ने उत्तर भारत में शीत लहर की चेतावनी जारी की है. दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात के कई हिस्सों में शीत लहर और पाला पड़ने की संभावना है. वहीं बुद्धवार को पंजाब, हरियाणा, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल के कुछ इलाकों में कोहरा छाया रहा.

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कई जगह बर्फबारी हुई. मौसम विभाग ने कहा कि नववर्ष के पहले तापमान  और भी गिर सकता है. कश्मीर में ज्यादातर स्थानों पर मध्यम हिमपात हुआ और पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों चेहरे खिल गये क्योंकि उन्हें नये साल पर कारोबार के तेज होने की उम्मीद है. अधिकारियों के अनुसार श्रीनगर में सुबह सात बजे हिमपात होने लगा और उसके कई घंटे बाद पड़ोस के बडगाम और पुलवामा जिलो में भी बर्फबारी होने लगी.

अधिकारियों के अनुसार गुलमर्ग में सात इंच ताजा बर्फबारी हुई जबकि पहलगाम एवं सोनमार्ग में तीन से चार इंच हिमपात हुआ. अधिकारियों के अनुसार नये साल से पहले हुए हिमपात की वजह से अनेक घरेलू पर्यटक और स्थानीय लोग गुलमर्ग और पहलगाम पहुंच रहे हैं.
राजस्थान में तेज और ठंडी उत्तरी हवाओं के असर के चलते ज्यादातर स्थानों पर न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है.

हरियाणा और पंजाब के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से जारी शीत लहर और तेज हो गई है. मौसम विभाग के मुताबिक कोहरे के कारण दोनों राज्यों में सुबह कई जगहों पर विजिबिलिटी कम हो गई. मौसम में लगातार हो रहे बदलाव का असर सेहत पर पड़ने लगा है। शीतलहर धूप के बावजूद कनकनी से अस्थमा और सांस के मरीजों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। दिल के मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। जुकाम, बुखाार और खांसी के मरीजों की संख्या 25 से 30 फीसदी तक बढ़ गई है। सदर अस्प्ताल, अनुमंडल और रेफरल अस्पताल के अलावा निजी अस्पतालों की ओपीडी में डॉक्टर की सलाह के लिए मारामारी बढ़ गई है।

रांची का न्यूनतम पारा मंगलवार को दो डिग्री उछाल के साथ 11.2 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। जो कि सामान्य तापमान से दो डिग्री अधिक है। इसके कारण दिन में लोगों को ठंड से राहत मिली है। शाम की कनकनी जारी है। मौसम विज्ञान केंद्र रांची के मुताबिक अगले चार दिनों तक रांची का मिजाज ऐसा ही बना रहेगा। ऐसा तीन साल बाद हो रहा है जब न्यू ईयर में रांची का तापमान सामान्य या इससे अधिक है।