केरल में कुदरत का कहर, भूस्खलन में मरने वालों की संख्या 42 के पार

केरल में कुदरत ने कहर बरपाया है. यहां बारिश मौत बन कर सामने आई है. इडुक्की में हुए भूसख्लन, राज्य के कई जिलों में बाढ़ और बारिश से हुई तबाही ने हजारों लोगों की जिंदगी को खतरे में डाल रखा है.आलम ये हो गया है कि शहर-कस्बे और गांव में बाढ़ का पानी घुसता जा रहा है. वही केरल के इडुक्की जिले में रविवार को 17 और शवों को मलबे से निकाला गया जिससे भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हो गई.

केरल भूस्खलन में मरने वालों की ...

दरअसल, ये हादसा शुक्रवार सुबह इडुक्की जिले में राजमाला के पेत्तिमुदी में मूसलाधार बारिश के बाद हुआ. राजमाला में नेम्मक्कड़ एस्टेट के पेत्तिमुदी डिवीजन में 20 परिवारों के घर पर एक बड़ी पहाड़ी गिर गई.वही भूस्खलन के कारण करीब 10 मजूदरों के घर वहां धंस गए हैं. परिवार के सदस्य कीचड़ और मलबे के नीचे अभी भी फंसे हुए हैं.लगातार इनकी तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. एनडीआरएफ सहित राज्य सरकार के बचाव दल दुर्घटनास्थल पर मौजूद है. लैंडस्लाइड की घटना के बाद मौके पर बड़े पैमाने पर राहत कार्य चल रहा है.

इस बीच मौसम विभाग ने केरल में आने वाले वक्त में भारी बारिश की संभावना जताई है.ऐसे में भारी बारिश को लेकर सरकार की तैयारियां जोरों पर हैं.