Madhya Pradesh: यहां नदी उगल रही है सोने-चांदी के सिक्के!

आपने किस्से-कहानियों में खुब सुना होगा की नदी सोने-चांदी के सिक्के उगलते है.आपके घर के बुजुर्ग जब आपको कहानियां सुनाते होंगे तो उनके मुंह से आपने ये जरूर सुना होगा कि पहले तो नदीं की खुदाई कर के लोग सोने-चांदी निकाल लेते थे. इन कहानियों में ये भी सुना होगा कि राजा-महाराजा तो सोने के खजाने को ऐसे ही जमीन के अंदर सजो कर रखते है. लेकिन ये किस्से इन दिनों मध्य प्रदेश में सच साबित हुई दिख रही है. तो चलिए जानते है की पूरी कहानी क्या है….

जानें कहाँ नदी उगल रही है सोने-चांदी के सिक्के, 5 दिन से खुदाई में जुटे हैं  ग्रामीण - Mantratimes | DailyHunt

दरअसल, मध्य प्रदेश के शिवपुरा इलाके में कुछ मछुआरों को पार्वती नदी में कुछ सिक्के मिले, जिसके बाद ये खबर ऐसी फैली की आस-पास के सैकड़ों गांव वाले यहां जुट गए और खजाना तलाशने में जुट गए. यहां नदी से सोना चांदी मिलने की अफवाह के बाद बीते आठ दिनों से लोग नदी की खुदाई में जुटे हैं और ये लोग यहां इस नदी में सोने और चांदी के सिक्के तलाश रहे हैं. आलम ये है कि कुछ लोगों ने तो यहीं रहने के लिए टेंट तक बना लिया है. यहां नदी किनारे सोने-चांदी के सिक्के ढूंढने में बच्चे से लेकर बड़े और महिलाएं भी शामिल हैं.

शिवपुरा गांव सीहोर और राजगढ़ जिले की सीमा पर स्थित है. पार्वती नदी इन दोनों जिलों के बीच से बहती है. पिछले आठ दिन से पार्वती नदी में बड़ी संख्या में लोग जमे हुए हैं. ठंड के बावजूद बच्चे और महिलाएं भी यहां मौजूद हैं. सभी अलग-अलग जगह नदी में खुदाई कर रहे हैं.

PHOTOS: नदी उगल रही सोने के सिक्के? अफवाह पर पूरे गांव ने शुरू कर दी खुदाई  | People thronging Shivpura and Garudpura to dig mud in Parvati river in  search of gold

दरअसल, एक स्थानीय नागरिक के मुताबिक, 8 दिन पहले कुछ मछुआरों को यहां पर सिक्के मिले थे, जब ये बात सभी को पता चली, तो लोग यहां आने लगे. अब काफी लोग यहां खुदाई कर रहे हैं और सोने-चांदी के सिक्के ढूंढ रहे हैं. बताया जा रहा है कि मामले की जानकारी राजस्व विभाग को लगी तो एक पटवारी छानबीन करने पहुंचा था, पटवारी ने लोगों को समझाया, लेकिन इसके बाद भी ग्रामीण नदी खोदने में लगे रहे. यहां खुदाई करने में जुटे लोगों का कहना है कि उन्हें अभी तक कुछ मिला तो नहीं है. लेकिन, उम्मीद है कि उनकी किस्मत चमकेगी और उन्हें सिक्का मिल जाएगा. हालांकि इस मामले को लेकर प्रशासन भी अलर्ट है और लोगों पर नजर बनाए हुए है.