Mahalekshmi Anand: 3 वर्ल्ड रिकॉर्ड समेत 9 रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करने वाली 5 साल की ये बच्ची कौन है?

जिस उम्र में बच्चे ए बी सी डी सीखना शुरू करते हैं और खिलौने से खेलते हैं, उस उम्र में केरल की एक बच्ची ने वो कर दिखाया है जो इंसान अपनी पूरी जिंदगी में नहीं कर पाता. जी हां इस बच्ची ने 9 बड़े रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं. यही नहीं इनमें से तीन तो वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं. ऐसे में इस बच्ची की खुब तारीफ हो रही हैं…

तीन वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाली इस बच्ची का नाम महालक्ष्मी आनंद है. इस बच्ची की उम्र महज 5 साल है. केरल की मूल निवासी महालक्ष्मी अपने माता-पिता के साथ अबू धाबी में रहती हैं. महालक्ष्मी का दिमाग बहुत तेज है और वो चीजों को याद करने के बाद जल्दी भूलती नहीं हैं.

बता दें कि महालक्ष्मी ने तीन कैटेगरी में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है.

  1. महालक्ष्मी ने एक मिनट में सबसे ज्यादा आविष्कारकों और उनके आविष्कार के नाम लेने का रिकॉर्ड बनाया है. इस श्रेणी में उनके नाम एक राष्ट्रीय रिकॉर्ड (इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड) और तीन अंतरराष्ट्रीय रिकॉर्ड हैं.
  2. महालक्ष्मी के नाम 54 सेकंड में भरतनाट्यम की सबसे ज्यादा मुद्रा और भावों का प्रदर्शन करके दिखाने का रिकॉर्ड भी है.
  3. इसके अलावा सबसे कम उम्र में सबसे तेज मात्र 26 सेकेंड में अल्फाबेटिकल ऑर्डर में भारत के सभी प्रदेशों और उनकी राजधानियों का नाम बताने का रिकॉर्ड बनाया है.

महालक्ष्मी आनंद के माता-पिता ने बताया कि डेढ़ साल की उम्र में ही उसकी इस क्षमता को हमने पहचान लिया था.उनकी बेटी को शुरू से ही चीजों को पढ़ना और याद करना बहुत पसंद है. जब उन्होंने बेटी के इस टैलेंट को देखा तो उसे चीजों को याद करने और प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया. उन्होंने आगे कहा कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है और वे दोनों उससे बहुत प्यार करते हैं.

केजी-2 में पढ़ने वाली महालक्ष्मी आनंद इसका शानदार और बेहतरीन उदाहरण हैं कि इंसान की उम्र केवल एक संख्या भर है…