कोरोना वैक्सीन की कमी के बीच वैक्सीन की लाखों डोज बर्बाद!

बीते कई दिनों से कोरोना वैक्सीन से जुड़ी एक खबर चर्चा में है. खबर ये है कि देश भर में कोरोना वैक्सीन की कमी हो रही है. ऐसी खबरों के बीच एक और नई खबर सामने आई जिसने सबकी चिंता बढ़ा दी है. दरअसल, कोरोना वैक्सीन को लेकर दायर हुई एक RTI में जवाब मिला है कि 11 अप्रैल तक राज्यों के द्वारा उपयोग किए गए 10.34 करोड़ वैक्सीन डोज में से 44.78 लाख डोज बर्बाद हो गए हैं. मतलब ये कि 11 अप्रैल तक देश में करीब 45 लाख कोरोना की वैक्सीन बर्बाद हो चुकी हैं. इस आरटीआई के मुताबिक, वैक्सीन बर्बादी के मामले में पांच राज्य सबसे आगे हैं.

Those taking Corona Vaccine will not get opportunity to choose their  choice: government |कोरोना वैक्सीन लगवाने को नहीं मिलेगा विकल्प चुनने का  मौका, सरकार ने कही ये बात | Hindi News, देश

सबसे ज्यादा तमिलनाडु में वैक्सीन की बर्बादी देखने को मिली है. यहां 11 अप्रैल तक 12.10% वैक्सीन खराब हो गई है. हरियाणा इसमें दूसरे नंबर पर है.यहां 9.74% वैक्सीन की बर्बादी हुई है. इसके बाद पंजाब में 8.12, मणिपुर में 7.80 और तेलंगाना में 7.55 प्रतिशत वैक्सीन की बर्बाद हुई है.

हाल ही में वैक्सीन को लेकर दायर हुई एक RTI में जवाब मिला है कि एक ओर देश के कई राज्यों में वैक्सीन की कमी जैसे हालात तैयार हो रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर कुछ ऐसे राज्य भी हैं, जो लगातार वैक्सीन बर्बादी में आगे चल रहे हैं.

इस RTI में ये भी जवाब मिला है कि कुछ राज्य ऐसे भी है जहां वैक्सीन की बर्बादी नहीं हुई है. जानकारी के मुताबिक, केरल, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, मिजोरम, गोवा, दमन एंड दीव, अंडमान एंड निकोबार आईलैंड और लक्षद्वीप ऐसे राज्य है जहां वैक्सीन की बर्बादी नहीं हुई है.

Corona Vaccine Guidelines In Hindi: Government SOP For Corona Mass  Vaccination Drive In India - कोरोना वैक्‍सीन गाइडलाइंस: कोरोना वैक्‍सीन  आपको कब और कैसे मिलेगी ? डीटेल में जानें ...

राज्यों में वैक्सीन की बर्बादी को इन आंकड़ों से समझें-

राजस्थान: 6,10,551

तमिलनाडु : 5,04,724

उत्तर प्रदेश: 4,99,115

महाराष्ट्र: 3,56725

गुजरात: 3.56 लाख

बिहार: 3,37,769

हरियाणा: 2,46,462

कर्नाटक: 2,14,842

तेलंगाना: 1,68,302

पंजाब: 1,56,423

छत्तीसगढ़: 1.45 लाख

ओडिशा: 1,41,811

दिल्ली: 1.35 लाख

असम: 1,23, 818

आंध्र प्रदेश: 1,17,733

जम्मू-कश्मीर: 90,619

मध्य प्रदेश: 81,535

झारखंड: 63,235

उत्तराखंड: 51,956

त्रिपुरा: 43,292

मणिपुर: 11,184

मेघालय: 7,673

सिक्किम: 4,314

नागालैंड: 3,844

पुडुचेरी: 3,115

इस साल के शुरुआत से ही देश भर में टीकाकरण का अभियान जारी है. 16 जनवरी से शुरू हुए इस अभियान में फिलहाल 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है लेकिन 1 मई के बाद से 18 साल तक के लोग भी कोरोना का टीका लगवा सकते है. केंद्र सरकार ने वैक्सीन की कीमत, उपलब्धता को लेकर भी बड़े फैसले लिए हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वैक्सीन की कमी को लेकर सभी कम्पनियों से कहा है कि वैक्सीन के उत्पादन क्षमता को वो बढ़ाये. साथ ही ऐसी भी खबर है कि आने वाले दिनों में कोरोना की और भी नई वैक्सीन भारत में उपल्ब्ध हो सकती है.