समय से पहले आएगा मानसून! मौसम विभाग की भविष्यवाणी

भारत में मानसून की शुरुआत होने वाली है. एक के बाद एक आये दो चक्रवातों की वजह से मानसून पर भी सिका असर पड़ने की संभावना है. सबसे पहले मानसून की शुरुआत केरल से होती है. मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि आगामी 31 मई तक मानसून केरल (Kearala) में दस्तक दे सकता है. मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण पश्चिम मानसून सोमवार को केरल तट से टकरा सकता है. मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि अगर ऐसा होता है तो इसका मतलब है कि मानसून निर्धारित समय से पहले आ गया. केरल में मानसून के पहुंचने की सामान्य तारीख एक जून है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बृहस्पतिवार को कहा था कि दक्षिण पश्चिम मानसून दक्षिण पश्चिम तथा पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी के और हिस्सों की ओर बढ़ गया है. अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में पिछले दो सप्ताह में चक्रवाती तूफान टाउते और यास आए. इन दोनों तूफानों की वजह से देश में कई जगहों पर भारी बारिश हुई.दक्षिण पश्चिम मानसून 27 मई की सुबह मालदीव-कोमोरिन इलाके, दक्षिण पश्चिम तथा पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों की ओर, दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के अधिकतर हिस्सों और पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों की ओर बढ़ गया था

विभाग ने कहा है कि 30 मई को अंडमान निकोबार द्वीप समूह के कई हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है. इसकी वजह से मछुआरों को अगली सूचना तक समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है.