झारखंड में पहुंचा मानसून… झमाझम बारिश से शानदार आगाज… जानें अपने जिले का हाल

गर्मी से बेचैन लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है। प्री मानसून मौसम का म‍िजाज बदलने जा रहा है। झारखंड की राजधानी रांची में मंगलवार के दिन दोपहर से रुक-रुककर हो रही बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। आज बुधवार की सुबह भी रांची समेत आसपास के इलाके में बारिश हुई है। यह बारिश मानसून आने से पहले की बारिश है. बता दें कि राज्य में संताल परगना के साहिबगंज क्षेत्र से इस बार मानसून आने की संभावना है। रांची में बारिश के बाद से जहा तापमान ३८ डिग्री से ३३ डिग्री नीचे गिर गया वही दिन भर बादल छाए रहे और शाम को झमाझम बारिश हुई। मौसम विभाग ने रांची सहित गुमला, लातेहार और लोहरदगा में भी बारिश का पूर्वानुमान किया था।

 जारी किया येलो अलर्ट

मौसम विभाग ने कई जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक रांची सहित गुमला, गढ़वा, बोकारो, धनबाद, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, पाकुड़, लातेहार, रामगढ़, दुमका, हजारीबाग, देवघर, गिरिडीह, जामताड़ा, लातेहार, लोहरदगा में हल्के से मध्यम दर्जे की मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ बारिश की चेतावनी जारी की है।  हवा की गति 30-40 किलोमिटर प्रति घंटे तक हो सकती है।

16 और 17 जून को भारी बारिश की संभावना

 मौसम केंद्र, रांची ने 16 और 17 जून को राज्य के मध्य भाग यानी रांची, गुमला, बोकारो, हजारीबाग, खूंटी और रामगढ़ तथा दक्षिणी यानी पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां एवं सिमडेगा जिले में कहीं-कहीं भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. वहीं, आगामी 20 जून तक राज्य में कई स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जतायी गयी है।

इन जिलों में 19 जून तक हो सकती है वर्षा

 19 जून तक देवघर, धनबाद, दुमका, गिरिडीह, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़, साहिबगंज सहित आसपास के जिले के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है। 15 जून को झारखंड में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग ने जारी की एडवाइजरी

मौसम विभाग ने मौसम के रुक को देखते हुए एडवाइजरी जारी करि हुई है। लोगों से सुरक्षित जगहों में शरण लेने की बात कही है। मौसम विभाग ने लोगो को बिजली के खंभों से दूर रहने को कहा है और साथ ही साथ पेड़ के नीचे खड़े नहीं होने का सुझाव दिया है। किसानों को खेतों में नहीं जाने और मौसम सामान्य होने का इंतजार करने की सलाह दी है।