पिछले 24 घंटे में सामने आये संक्रमण के 1.15 लाख से अधिक मामले, केंद्र सरकार ने दी चेतावनी

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले मंगलवार को लगभग 1.15 लाख दर्ज हुए है. ये एक दिन की अब तक की सर्वाधिक संख्या है. इस बीच, केंद्र सरकार ने आगाह किया कि अगले चार सप्ताह “बेहद महत्वपूर्ण” है और लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है.
आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार को संक्रमण के 1.15 लाख से अधिक मामले सामने आए, जो भारत में जनवरी 2020 में महामारी की शुरुआत होने से लेकर अब तक प्रतिदिन सामने आए मामलों की सबसे अधिक संख्या है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 1 लाख 15 हजार 736 लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित हुए है, जबकि इस दौरान 630 लोगों की जान गई. इसके बाद भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 28 लाख 1 हजार 785 हो गई है और 1 लाख 66 हजार 177 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.
महाराष्ट्र में तमाम पाबंदियों के बावजूद कोरोना वायरस बेकाबू हो गया है और नए मामले हर दिन कोई रिकॉर्ड ही बना रहे हैं. बीते दिन महाराष्ट्र में 55,469 केस दर्ज किए गए. जबकि 297 मौतें हुई हैं.

देश की राजधानी दिल्ली एक बार फिर कोरोना की चपेट में आ गई है. बीते दिन दिल्ली में 5100 कोरोना के नए केस दर्ज किए गए, जो कि नवंबर 2020 के बाद का सबसे बड़ा आंकड़ा है. 27 नवंबर, 2020 को दिल्ली में 5482 मामले सामने आए थे, उसके बाद बीते दिन ही सबसे बड़ी उछाल हुई है. दिल्ली में मंगलवार को 5100 केस, 17 मौतें दर्ज की गईं. अब दिल्ली में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 17 हजार से अधिक हो गई है हालाँकि दिल्ली में नाईट कर्फ्यू लगाऊ किया गया है लेकिन लॉकडाउन की अभी कोई संभावना नही है. श की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते महासंकट के बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. अब दिल्ली में हर व्यक्ति के लिए मास्क पहनना जरूरी है. बुधवार को एक याचिका की सुनवाई के दौरान अदालत ने ये निर्देश दिया है. जस्टिस प्रतिभा सिंह ने आदेश दिया है कि दिल्ली में हर किसी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है. आदेश के मुताबिक, अगर कोई व्यक्ति अकेले गाड़ी चला रहा है तो उसे भी मास्क पहनना होगा. अदालत का कहना है कि अगर कोई वाहन चाहे उसमें एक ही व्यक्ति बैठा हो, वह भी एक पब्लिक प्लेस ही है. ऐसे में मास्क अनिवार्य है.

भारत में अब तक 8,70,77,474 वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, मंगलवार को 33,37,601 डोज लगाई गई, इसमें 30,08,087 लोगों को पहली डोज और 3,29,514 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई.
भारत में अब तक कोरोना वायरस की जांच के लिए कुल 25,14,39,598 सैंपल की टेस्टिंग की जा चुकी है. ICMR के मुताबिक, मंगलवार को देश भर में 12,08,329 सैंपल टेस्ट किए गए.
कोरोना के सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात और छत्तीसगढ़ से सामने आ रहे हैं जहाँ पिछले सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं. पंजाब भी इसी लिस्ट में शामिल हो सकता है,