MP: बाढ़ से बेहाल मध्य प्रदेश, अगले 24 घंटों में भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी जारी

मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में बाढ़ के कारण हाल बेहाल है. नदियों में आए सैलाब ने गांवों में तबाही मचा रखी है. कुछ गांव तो ऐसे हैं, जहां लोगों की जिंदगी बहाव के बीच फंसी हुई है. खासकर चंबल और ग्वालियर क्षेत्र में बाढ़ का ज्यादा प्रकोप है. अब तक राज्य में बाढ़ से 24 लोगों की मौत हो गई है. मौत का ये आंकड़ा 1 से 7 अगस्त तक का है. बता दें शुक्रवार तक मौतों की संख्या 12 दर्ज की गई थी. लेकिन शनिवार को इसमें इजाफा हुआ और ये संख्या 24 पहुंच गई.

Weather Forecast Today: MP में भारी बारिश का रेड अलर्ट, UP-बिहार में तबाही,  कई राज्यों में चेतावनी - weather forecast today live updates red alert in mp  mumbai imd alert bihar up

वहीं, बाढ़ से 1250 गांव प्रभावित हुए हैं. भारी बारिश से ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, श्योपुर, दतिया, अशोकनगर, भिंड और मुरैना में काफी नुकसान हुआ है. हालांकि राज्य के अधिकारियों का कहना है कि बाढ़ के हालातों में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है. बाढ़ प्रभावित इलाकों में लगातार युद्ध स्तर पर बचाव और राहत कार्य जारी है.

MP के अधिकतर हिस्सों में जमकर बारिश, 30 वर्षीय महिला नदी में बही, तलाश जारी

बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने में NDRF, SDRF, वायुसेना और सेना जुटी हुई है. अबतक 8800 लोगों का रेस्क्यू किया जा चुका है. राज्य में बाढ़ के खतरे को देखते हुए करीब 29 हज़ार लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया था. फिलहाल मुरैना, शिवपुरी, भिंड, श्योपुर और अशोकनगर में लोगों को बचाने के लिए आर्मी के 5 कॉलम मौजूद हैं. वहीं यहां NDRF की आठ यूनिट भी तैनात है. इसके अलावा एयरफोर्स के 3 हेलीकॉप्टर, SDERF की 29 टीम तैनात हैं. बाढ़ में फंसे लोगों का रेस्क्यू करने के लिए अभियान लगातार जारी है.