विमान में सफर करने के दौरान कभी ना करें ये काम, देना पड़ सकता है 1 करोड़ का जुर्माना

सरकार ने विमान सुरक्षा (Flight Security) को खतरे में डालने वाले दोषियों पर लगने वाला जुर्माना बढ़ाकर 1 करोड़ कर दिया है । सरकार ने एयरक्राफ्ट एक्ट, 1934 में संशोधन के लिए प्रस्तावित विधेयक को मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में ये मंजूरी दी गई। इसमें विमान में किसी तरह का गोला बारूद, हथियार या खतरनाक वस्तुएं ले जाने या विमान की सुरक्षा को किसी भी प्रकार से खतरे में डालने के दोषियों पर सजा के अलावा 10 लाख के मौजूदा जुर्माने को बढ़ाकर 1 करोड़ करने का प्रस्ताव है। प्रस्तावित विधेयक को एयरक्राफ्ट (संशोधन) विधेयक 2019 के नाम से संसद में पेश किया जाएगा।

Image result for विमान सुरक्षा (Flight Security

इसमें विमान में किसी तरह का गोला बारूद, हथियार या खतरनाक वस्तुएं ले जाने या विमान की सुरक्षा को किसी भी प्रकार से खतरे में डालने के दोषियों पर सजा के अलावा 10 लाख के मौजूदा जुर्माने को बढ़ाकर 1 करोड़ करने का प्रस्ताव है। प्रस्तावित विधेयक को एयरक्राफ्ट (संशोधन) विधेयक 2019 के नाम से संसद में पेश किया जाएगा।

एयरक्राफ्ट संशोधन बिल (Aircraft Amendment Bill 2019) में एयर नेविगेशन के सभी क्षेत्रों के नियम-कायदों को एक्ट के दायरे में लाने का प्रस्ताव किया गया है। संशोधन से इंटरनेशनल सिविल एविएशन आर्गनाइजेशन आइसीएओ की सुरक्षा संबंधी सभी शर्ते भी पूरी होंगी। इसके अलावा इससे भारत के तीनों विमानन नियामकों-उड्डयन महानिदेशालय (Directorate General of Civil Aviation),ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी (BCAS) और एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इन्वेस्टीगेशन ब्यूरो (AAIB) को अपनी भूमिका सही तरीके से निभाने में सहायता मिलेगी।