बाहर के खाने के पैकेट से कोरोना होने का खतरा है या नहीं?WHO ने दिया ये जवाब

कोरोना काल में सभी लोग सतर्क रह रहे है और ज्यादा से ज्यादा कोशिश भी कर रहे है कि वो बाहर के खाने से बचे. ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बात की जानकारी दी है कि खाने के पैकेट से कोरोना संक्रमण का खतरा है या नहीं. WHO ने बताया है कि खाना या फिर खाने के पैकेट से कोरोना फैलने के सबूत नहीं मिले हैं.ऐसे में WHO ने लोगों से  अपील की है कि लोग खाने से कोरोना संक्रमित होने को लेकर डरें नहीं.

WHO के इमरजेंसी प्रोग्राम के प्रमुख माइक रयान ने बताया कि लोग खाने की डिलीवरी या प्रोसेस फूड के पैकेट इस्तेमाल करने से डरें नहीं. वहीं, WHO की महामारी विशेषज्ञ मारिया वैन केरखोवे के मुताबिक, चीन ने लाखों पैकेट की जांच की है और बहुत ही कम पॉजिटिव मामले आए हैं, 10 से भी कम.

यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चीन के मुताबिक, उसके दो शहरों में ब्राजील से आयात किए गए फ्रोजेन चिकन की जब जांच की गई तो वायरस की पुष्टि हुई. इसके साथ ही इक्वाडोर से आए खाने के सामान के पैकेट पर भी वायरस मिले है.

कुछ समय पहले विश्वभर के कई विशेषज्ञों ने दावा किया था कि कोरोना वायरस हवा में भी मौजूद रह सकता है. बाद में WHO ने भी माना था कि कोरोना वायरस के कण हवा में भी मौजूद रह सकते हैं. लेकिन अब WHO ने लोगों से अपील की है वो बाहर के खाने से ना डरें क्योंकि बाहर के खाने के पैकेट से संक्रमण की बहुत ही कम पृष्टि हुई है.