57 दिन बाद पीएम मोदी निकले दिल्ली से बाहर, करेंगे ओडिशा और पश्चिम बंगाल का दौरा

 सुपर साइक्लोन अम्फान ने पश्चिम बंगाल और उड़ीसा के कई जिलों में जमकर तबाही मचाई है. जानकारी के मुताबिक़ इस तूफ़ान की वजह से लगभग 75 लोगों की जान गयी है और लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. कुछ जिले तो पूरी तरह से बर्बाद हो गये हैं.

कोरोना वायरस के चलते पूरा देश लॉकडाउन में था. ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी 57 दिन बाद दिल्ली से बाहर निकले हैं. प्रधानमंत्री मोदी ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तूफ़ान से प्रभावित इलाके का दौरा करने के लिए दिल्ली से रवाना हो चुके हैं. वहीं, लॉकडाउन से पहले पीएम मोदी आखिरी बार 83 दिन पहले 29 फरवरी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और चित्रकूट के दौरे पर गए थे.

पीएम मोदी दिल्ली से विशेष विमान से कोलकाता के लिए रवाना हो चुके हैं. पीएम 10:50 बजे तक कोलकाता एयरपोर्ट पहुंच जाएंगे. पहले वह बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करेंगे, फिर ओडिशा जाएंगे.

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने आज कहा कि चक्रवात से प्रभावित लोगों की मदद के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी. पश्चिम बंगाल में सौ साल के अंतराल में आए इस भीषणतम चक्रवाती तूफान ने मिट्टी के घरों को ध्वस्त कर दिया, फसलों को नष्ट कर दिया और पेड़ों तथा बिजली के खंभों को भी उखाड़ फेंका है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘अब तक हमें मिली खबरों के अनुसार, चक्रवात ‘अम्फान’ के चलते 72 लोगों की मौत हुई है. दो जिले-उत्तर और दक्षिण 24 परगना पूरी तरह तबाह हो गए हैं. वहीँ ओडिशा के अधिकारियों के आकलन के अनुसार, चक्रवात से लगभग 44.8 लाख लोग प्रभावित हुए हैं.