पुर्तगाल में शुरु होने वाला है यूरोप का सबसे बड़ा फ्लोटिंग सोलर पार्क

पुर्तगाल (Portugal) में यूरोप (Europe) का सबसे बड़ा फ्लोटिंग सोलर पार्क (Floating solar park) बनने जा रहा है। यह सोलर पार्क इस साल जुलाई में पुर्तगाल के अलकेवा जलाशय पर बनेगा। जुलाई में शुरू होने वाले इस प्रोजेट की तैयारी जोर शोर से चल रही है। जैसा कि नाम से पता चलता है कि यह सोलर पार्क पानी पर तैरेगा, इसलिए इसे बनाने के लिए दो टगबोटों (Tugboats) के ज़रिए 12,000 सोलर पैनल लाए गए है। अल्केवा रिज़रवॉयर में बन रहा यह फ्लोटिंग सोलर पार्क फुटबॉल की चार पिचों के आकार जितना बड़ा होगा।

पश्चिमी यूरोप की सबसे बड़ी कृत्रिम झील पर देश की मुख्य उपयोगिता कंपनी ईडीपी द्वारा निर्मित यह फ्लोटिंग सोलर पार्क पुर्तगाल की योजना का हिस्सा है। इसे बनाने का उद्देश्य बाहरी ईंधन पर अपनी निर्भरता कम करना है. क्योंकि ईंधन की कीमतें यूक्रेन और रूस के युद्ध (Russia-Ukraine war) के बाद से काफी बढ़ गयी है। लंबे समय तक धूप और अटलांटिक हवाओं से धन्य, पुर्तगाल ने अक्षय ऊर्जा के लिए अपनी पारी को तेज कर दिया है। ऊर्जा के लिए अब पुर्तगाल ने इसका फायदा उठाना शुरू कर दिया है. भले ही पुर्तगाल रूसी हाइड्रोकार्बन का इस्तेमाल नहीं करता हो, फिर भी उसके गैस से चलने वाले पॉवर प्लांट्स पर ईंधन की बढ़ती कीमतों का असर पड़ रहा है।

पुर्तगाल के अल्केवा जलाशय पर पैनल, जिसका उपयोग जल विद्युत उत्पन्न करने के लिए किया जाता है, एक वर्ष में 7.5 गीगावाट/घंटे (जीडब्ल्यूएच) बिजली का उत्पादन करेगा, और लिथियम बैटरी द्वारा 2 जीडब्ल्यूएच स्टोर करने के लिए पूरक होगा। सोलर प्रोजेक्ट के प्रभारी और EDP निदेशक मिगुएल पाटेना (Miguel Patena) का कहना है कि इस फ्लोटिंग पार्क की क्षमता 5 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा और इसमें गैस से चलने वाले प्लांट की तुलना में सिर्फ एक तिहाई का खर्च आएगा।

यह परियोजना यूरोप में एक हाइड्रो बांध में सबसे बड़ा तैरता हुआ सौर पार्क है। यह सौर पैनल 1,500 परिवारों को बिजली की आपूर्ति करेंगे, जो जलाशय के आस-पास के दो गांवों मौरा और पोर्टेल की जरूरतों के एक तिहाई के बराबर है। EDP एग्ज़िक्यूटिव बोर्ड की सदस्य एना पाउला मार्क्स (Ana Paula Marques) का कहना है कि रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से इस दिशा में काम करने की ज़रूरत महसूस हुई. उन्होंने कहा कि 2030 तक 100% ग्रीन होने के लिए अल्केवा प्रोजेक्ट EDP की रणनीति का हिस्सा था।

CO2 उत्सर्जन कम करने की कोशिश में, कैलिफ़ोर्निया से लेकर चीन में प्रदूषित औद्योगिक तालाबों, झीलों और समुद्र में सौर पैनल लगाए गए हैं. फ़्लोटिंग पैनलों को लगाने के लिए बहुत ज्यादा इनवेस्टमेंट की ज़रूरत नहीं पड़ती. साथ ही, हाइड्रोपॉवर के लिए रिज़रवॉयर पर लगाए जाने वाले पैनलों पर भी कम लागत आती है।