झारखंड में ठंड के बीच रात भर जारी रहा प्रदर्शन, कई लोगों की तबियत बिगड़ी

आज दिनांक 2 जनवरी 2021 को 14 वित्त कर्मचारी संघ के बैनर तले लगातार 17 दिसंबर 2020 से आंदोलन किया जा रहा है जिनकी संविदा 31 दिसंबर 2020 को समाप्त हो गई झारखंड के सभी जिलों से लगभग 800 लोग आए और कल रात्रि में 400 लोगों को ही विश्राम करने के लिए संघ द्वारा आदेश दिया गया । ठंड में भी रात भर संघ के सभी कर्मचारी खुले आसमान के नीचे सोए जिसके कारण लगभग हमारे 10 साथी का तबीयत बिगड़ गया जिनका उपचार चल रहा है जिसमें आनंद प्रकाश साही कनीय अभियंता नीतीश कुमार गढ़वा कनीय अभियंता विमल इंदु शेखर कनीय अभियंता कांके पीयूष पांडे कनीय अभियंता आदि का तबीयत खराब हो गया संघ इन लोगों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता है।

स्वास्थ्य विभाग सदर हॉस्पिटल रांची से आज सुबह टीम भेजी गई थी स्वास्थ्य जांच करने के लिए लेकिन संघ ने सरकारी सेवा लेने से साफ तौर पर इंकार कर दिया ।साथ ही पूरे जोश और खरोश के साथ आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए संघ ने आगे का कार्यक्रम आज शाम को तय करने का निर्धारण निर्णय लिया है यह साफ तौर पर स्पष्ट कर दिया कि बिना सेवा विस्तार के एक भी लोग धरना स्थल से घर नहीं जाएंगे चाहे उसके लिए मरते दम तक अनशन क्यों ना करना पड़े।
कल सुबह 10:00 बजे से 24 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठेंगे ।
और आगे इसी तरह से शांतिपूर्ण धरने पर बने रहेंगे
उनकी प्रमुख
1.मांगे सेवा विस्तार
2. पंचायती राज में समायोजन 3.मानदेय में वृद्धि
संजय मुर्मू कोडरमा कनीय अभियंता
सीमा , अंजु , सुकेश , विमलेंदु , सद्दाम , १००० कर्मचारी आज शामिल थे