दिल्ली में अभी नही पहुंचा मानसून, देश के कई राज्यों में बारिश ने तोड़ दिया रिकॉर्ड

देश कई अधिकतर राज्यों में मान्सूसं ने दस्तक दे दी है.. कहीं कहीं बारिश इतना अधिक हो गयी है कि बाढ़ जैसे हालात अभी से बन गये हैं.. बिहार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र ऐसी जगहों पर कई दिनों में जमकर बारिश हो रही है. मुंबई से सटे कई इलाके पानी जमा होने से बुरी तरह प्रभावित हो चुके हैं.. लेकिन दिल्लीवासी समेत देश का एक बड़ा हिस्सा अभी भी मानसून का इन्तजार कर रहा है.

दिल्ली वालों को अभी करना पड़ेगा मानसून का इन्तजार 

शुक्रवार को भीषण गरमी के बीच दिल्ली में बादल छाये लेकिन बारिश नही हुआ अब शनिवार को हलकी बारिश का अनुमान जताया गया है. कुलदीप श्रीवास्तव (प्रमुख, प्रादेशिक मौसम विभाग दिल्ली) ने बताया कि मौसमी परिस्थितियों के कारण इन दिनों दिल्ली में उमस अधिक है। हालांकि, हल्की बारिश की भी संभावना बनी हुई है और अगले दो दिन तक दिल्ली- एनसीआर के कुछ इलाकों में बारिश भी दर्ज की जा सकती है। मानसून अगले एक-दो दिन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश को कवर कर लेगा। इसके बाद मानसून दिल्ली पहुँच सकता है हालांकि, दिल्ली को लेकर स्थिति अभी भी स्पष्ट नहीं है।

दिल्ली में प्रदुषण संतोषजनक 

वहीँ अगर बात दिल्ली के प्रदुषण की जाए तो केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की तरफ से जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के मुताबिक दिल्ली समेत एनसीआर के सभी शहरों का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) शुक्रवार को संतोषजनक श्रेणी में दर्ज किया गया।

उत्तर प्रदेश में मानसून ने बारिश दी है मेरठ में मानसून ने दस्तक दे दी है.. ऐसी जानकारी मिली है.. मौसम वैज्ञानिक उम्मीद जता रहे हैं कि आने वाले कुछ दिनों में मानसून पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दस्तक दे सकता है. बिहार में शनिवार के लिए मौसम विभाग की तरफ से येलो अलर्ट जारी किया गया है. उत्तराखंड में जून के पहले 16 दिनों में सामान्य से 44 फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गई है। राज्य में 13 जून को मानसून आने की घोषणा से पहले ही राज्य में जमकर बारिश शुरू हो चुकी थी।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान 

बात अगर मौसम विभाग के पूर्वानुमान की करें तो 19 जून के लिए मौसम पूर्वानुमान है कि उत्तर प्रदेश (पूर्वी) मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और गोवा में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है। वहीं छत्तीसगढ़, गुजरात और महाराष्ट्र के इलाकों में हल्की बारिश की संभावना व्यक्त की गई है। मौसम विभाग की मानें तो इस दौरान हवा की स्पीड 40 किमी प्रति घंटा हो सकती है।

20 जून के लिए जारी किये मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक़ उत्तर प्रदेदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड और बंगाल के इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। वहीं, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में हवा तेज हो सकती है.

झारखंड में बारिश ने तोड़ा रिकॉर्ड 

बात अगर झारखण्ड के मौसम की बात करें तो मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि वर्तमान में पूरे राज्य में सामान्य रूप से मानसून सक्रिय है. इसके कारण लगभग हर जिले में बारिश देखने को मिल रहा है। साथ ही, गंगा के मैदानी भाग और पश्चिमी बंगाल और बंगलादेश के सीमा पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसका असर भी राज्य में देखने को मिल रहा है। एक जून से लेकर 15 जून तक राज्य में सामान्य रूप से 71.4 मिमी बारिश होने की संभावना रहती है. जबकि इस वर्ष सामान्य से 81मिमी ज्यादा 129 मिमी बारिश रिकार्ड किया है. इस दौरान राज्य में सबसे ज्यादा बारिश जामताड़ा में 227 मिमी बारिश रिकार्ड किया गया है.