राजस्थान: अशोक गहलोत ने विधानसभा में हासिल किया विश्वास मत,सदन 21 अगस्त तक के लिए स्थगित

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने विश्वास मत हासिल कर लिया है. सदन में सरकार द्वारा लाए गए विश्वास प्रस्ताव को ध्वनि मत से पारित किया गया है. इसके साथ ही सदन की कार्रवाई 21 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी ने सदन द्वारा मंत्रिपरिषद में विश्वास व्यक्त करने का प्रस्ताव स्वीकार किए जाने का ऐलान किया. इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सरकार के प्रस्ताव पर हुई बहस का जवाब देते हुए विपक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया.

इसके साथ ही सीएम गहलोत ने विधायकों के फोन टैप होने के आरोपों को भी गलत बताया और कहा कि राजस्थान में ऐसी परंपरा नहीं है. अशोक गहलोत ने कहा कि आज बीजेपी के लोग बगुला भगत बन रहे हैं. सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली है. मैं 69 साल का हो गया, 50 साल से राजनीति में हूं. मैं आज लोकतंत्र को लेकर चिंतित हूं.

इसके साथ ही सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि सम्माननीय नेता प्रतिपक्ष को कहना चाहूंगा कि आप चाहे कितनी भी कोशिश कर लो, मैं आपको कहता हूं कि मैं राजस्थान की सरकार को गिरने नहीं दूंगा.