मात्र एक लड़की के लिए चलाई गई राजधानी ऐक्सप्रेस! क्या है इस खबर के पीछे की सच्चाई, यहां पढ़ें

रेलवे को एक युवती की जिद के आगे झुकना पड़ा और रेलवे ने एकमात्र सवारी के लिए राजधानी एक्सप्रेस को 535 किमी दूर रांची भेज दिया. रेलवे के इतिहास में ऐसा शायद पहली बार हुआ होगा जब किसी ट्रेन को सिर्फ एक सवारी के लिए सैकड़ों किलोमीटर की यात्रा करनी पड़ी. ऐसे में रेलवे के तरफ से उठाया गया ये कदम वाकई चौंकाने वाला है और यही वजह रहा कि ये खबर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा..लेकिन हम आपको बता दे कि ये खबर फेक है.

Ranchi Railway Station News - Railway Enquiry

तो चलिए जानते है कि पूरा मामला क्या है…

झारखंड में टाना भगतों के आंदोलन के कारण दिल्ली-रांची रूट पर रेल आवागमन ठप हो गया है. गुरुवार को दिल्ली से चलकर रांची जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस को 9 घंटों के इंतजार के बाद उसके यात्रियों को बस के जरिए रांची रवाना किया गया. लेकिन इस बीच मीडिया में ये खबर आई कि इस ट्रेंन में सवार रांची की अनन्या ने बस से जाने से साफ इनकार कर दिया. जिसके बाद रेलवे को मात्र एक महिला यात्री के लिए 930 यात्रियों वाली राजधानी एक्सप्रेस को अलग से चलानी पड़ी. लेकिन ये खबर फेक निकली है.

Ranchi Railway Station News - Railway Enquiry

दरअसल, धनबाद जोन के सीनियर डीसीएम एके पांडे ने इस खबर को फेक बताया है. उन्होंने कहा, ट्रेन को डीटीओ में लाया गया था, लेकिन कोई पॉजिटिव डवलपमेंट नहीं होने के बाद जिला प्रशासन की सहायता से सभी यात्रियों को बस से भेज दिया गया. किसी भी यात्री के लिए कोई ट्रेन नहीं चलायी गई है. तो अब तो आप समझ ही गए होंगे इस वायरल स्टोरी के पीछे की सच्चाई..