चक्रवात एमफान : इन राज्यों में बढ़ सकती है लोगों की मुश्किलें, जारी हुआ अलर्ट!

बड़ा चक्रवात एमफान ओडिशा और पश्चिम बंगाल में बड़ी तबाही मचा सकता है. कहा जा रहा है कि जब ये तूफ़ान धरती पर टकराएगा तो तूफ़ान की गति लगभग 200 किमी प्रति घंटें की हो सकती है.

बता दें कि सुपर साइक्लोन अम्फान आज शाम तक पश्चिम बंगाल में सुंदरबन के पास लैंडफाल करेगा.ओडिशा में अभी से तेज हवाएं चल रही हैं और कई जिलों में बारिश हो रही है. चक्रवाती तूफान अम्फान की वजह से 20 मई तक मछुआरों को समुद्र से दूर रहने को कहा गया है. मछुआरों को आज बंगाल की उत्तरी खाड़ी और आस-पास के इलाकों से दूर रहने की सलाह दी गई है. बताया जाता है कि उत्तर ओडिशा, पश्चिम बंगाल और निकटवर्ती बांग्लादेश के तटों को 20 मई तक बंद कर दिया गया है. गजपति जिले के कुछ क्षेत्रों से भी भूस्खलन की आशंका के मद्देनजर लोगों को हटाया जा रहा है.

आइये जानते है कि किन राज्यों को इस चक्रवात के चलते अलर्ट पर रखा गया है!

ओडिशा: जगतसिंहपुर, जाजपुर, कटक, पुरी, केंद्रपा, भद्रक, मयूरभंज, बालासोर और खोरडा के इलाकों में तेज़ बारिश हो सकती है. अम्फान की बढ़ती ताकत को देखते हुए बालासोर-भद्रक-मयूरभंज-जाजपुर जैसे जिलों में रेड अलर्ट जारी है.

पश्चिम बंगाल: दीघा, साउथ, नॉर्थ 24 परगना और ईस्ट मिदनापुर में तेज बारिश की संभावना जताई गई है. इसके अलावा अम्फान को लेकर कोलकाता, हावड़ा, हुगली और आसपास के जिलों में अलर्ट जारी किया गया है.

सिक्किम: चक्रवाती तूफान अम्फान का केंद्र भले ही पश्चिम बंगाल है लेकिन ये तूफान पश्चिम बंगाल के मालदा और दिनाजपुर से होते हुए सिक्किम की ओर बढ़ेगा. ऐसे में सिक्किम को भी अलर्ट कर दिया गया है.

असम और मेघालय: आईएमडी ने अनुमान लगाया है कि सिक्किम में 21 मई को भारी बारिश होने की संभावना है जबकि इसके आसपास के जिलों में हल्की बारिश होगी. चक्रवाती तूफान का असर कई अन्य राज्यों में भी देखने को मिल सकता है. 21 मई को असम और मेघायल में बारिश हो सकती है.