बदलते मौसम में किसानों की बढ़ाई टेंशन, दिल्ली में पड़ने वाली है भीषण गर्मी!

दिल्ली के मौसम में लगातास्र बदलाव देखने को मिल रहा है. दिल्ली में पिछले 3 दिनों से 45 किमी / घंटा की औसत गति से हवा चल रही है. मौसम विभाग के मुताबिक, राजस्थान के ऊपर बने चक्रवात केंद्र की वजह से दिल्ली में धूल भरी आंधी चल रही है। पिछले तीन दिनों से दिल्ली में यही स्थिति बनी हुई है और शुक्रवार को भी तेज हवा की वजह से लोगों को परेशानी हो सकती है। इसके बाद से लगातार मौसम में बदलाव होगा और अधिकतम पारा चढ़ने के साथ यह 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचेगा। इससे दोपहर के साथ सुबह भी गरम हो जाएगी. तेज हवाओं की वजह से दिल्ली में इस समय हवा में नमी का स्तर भी कम बना हुआ है. मौसम में हुए बदलाव की वजह से दिल्ली- एनसीआर की हवा में भी बदलाव हुआ है। दिल्ली समेत एनसीआर के शहरों की हवा औसत श्रेणी में दर्ज की गई है। केवल गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा की हवा खराब श्रेणी में रही। अगले तीन दिनों तक हवा की स्थिति औसत श्रेणी से खराब श्रेणी के बीच बनी रहेगी.

वहीं IMD से मिली जानकारी के अनुसार दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी और दक्षिण में स्थित अंडमान सागर में साइक्लोनिक सर्कुलेशन का प्रभाव रहेगा जिसके चलते अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में अगले कुछ दिनों में गरज के साथ बहुत वर्षा, बिजली और तेज हवा चलने की संभावना है. बताया जा रहा है कि दक्षिण अंडमान सागर पर बने डिप्रेशन के कारण अंडमान और निकोबार, असम, ओडिशा, मेघालया और अरुणाचल प्रदेश में अगले दो-तीन तक हल्की से भारी बारिश हो सकती है. इसके अलावा पंजाब, उत्तर राजस्थान हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश में अगले 24 घंटे काफी तेज हवाएं चल सकती हैं. वहीं, भारत के अन्य हिस्सों की बात करें तो केरल, जम्मू कश्मीर, और लद्दाख के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है. ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हीटवेव जारी रहेगा.


हालाँकि मौसम में हो रहे इस बदलाव के कारण किसानों की फसलों पर इसका असर पड़ सकता है. दरअसल रबी की फसल की कटाई चल रही है. इस समय अगर बारिश होती है तो किसानों को काफी नुकसान हो सकता है. ऐसे में किसानों को मौसम में हो रहे इस बदलाव को लेकर पहले से ही सतर्क रहने की जरूरत है.
वहीँ झारखण्ड की बात करें तो मौसम विभाग के द्वारा जारी अगले पंद्रह दिनों के मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि अप्रैल से दूसरे सप्ताह में लोगों को तेज गर्मी का समाना करना पड़ेगा। वहीं इस बीच एक से दो दिन राज्य में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की जा सकती है। वहीं पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में मौसम शुष्क रहा। राज्य में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान जमशेदपुर का दर्ज किया गया। यहां का अधिकतम तापमान 41.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं सबसे कम न्यूनतम तापमान बोकारो का 17.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।