जल्द ही लगने वाला है साल का तीसरा चंद्र ग्रहण, आइए जानते है इसका आप पर क्या असर पड़ेगा

बीते महिने में देशभर में दो ग्रहण देखने को मिले थे. 5 जून को चंद्र ग्रहण और फिर उसके बाद 21 जून को सूर्य ग्रहण.अब इसके बाद एक बार फिर 5 जुलाई को चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है. तो चलिए जानते है 5 जुलाई को लगने वाले चंद्र ग्रहण के बारे में सारी अहम जानकारी… और इस ग्रहण का आप पर क्या असर पड़ेगा..

– असल में 5 जुलाई को लगने वाला ग्रहण उपछाया चंद्र ग्रहण होगा.

-चंद्र ग्रहण हमेशा पूर्णिमा के दिन लगता है और इस बार ये चंद्र ग्रहण गुरू पूर्णिमा के दिन पड़ रहा है.

-5 जुलाई को लगने वाले इस ग्रहण की शुरूआत सुबह 8 बजकर 37 मिनट से होगी जो 11 बजकर 22 मिनट तक रहेगा. यह ग्रहण लगभग दो घंटे 43 मिनट और 24 सेकेंड तक रहेगा.

– भारत में इस ग्रहण को नहीं देखा जा सकेगा.

– यह ग्रहण अमेरिका, यूरोप, अफ्रिका और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई देगा.

– इस उपछाया चंद्रग्रहण को धनुर्धारी चंद्रग्रहण भी कहा जा रहा है.

– रविवार को लगने वाले इस चंद्र ग्रहण का भारत में कुछ खास असर नहीं होगा. इसलिए आप बिना किसी चिंता के वो सभी काम कर सकते हैं जो दैनिक जीवन के लिए जरूरी हैं.

-ज्योतिष शास्त्र में उपछाया ग्रहण मान्य नहीं होता है. इस ग्रहण का ना तो पृथ्वी पर कोई असर होता है और ना ही इसके सूतक के नियम माने जाते हैं.

-चंद्र ग्रहण को देखने के लिए किसी विशेष सावधानी की जरूरत नहीं होती है. ऐसे में आप इसे नंगी आंखों से भी देख सकते हैं. आप चाहें तो टेलिस्‍कोप की मदद से भी चंद्र ग्रहण देख सकते हैं.

-एक महीने के अंदर ये तीसरा ग्रहण लग रहा है. शास्त्रों के अनुसार जब एक महिने में तीन ग्रहण लगते हैं तो ये समय अच्छा नहीं माना जाता है. लेकिन इस बार ऐसा नहीं है क्योंकि इन तीनों ग्रहण में सिर्फ सूर्य ग्रहण ही पूर्ण रूप से लगा था.

– आपको बता दें कि ये इस साल का तीसरा चंद्र ग्रहण होगा. इसके बाद इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण 30 नंवबर को लगेगा.