पर्यावरण संरक्षण को लेकर दुनिया कर रही है भारत की तारीफ!

आज धरती का तापमान लगातार बढ़ता जा रहा है. जिसके कारण कई प्राकृतिक आपदाएं भी आ रही है. इसके साथ ही हमने भविष्य और आने वाली पीढी की चिंताएं बढ़ गयी हैं. लेकिन आज हम आपके लिए जो खबर लेकर ये हैं एक आपको खुश कर सकती है, आपके चेहरे पर मुस्कान ला सकती है. जी हाँ उम्मीद तो यही की जा रही है कि नया साल नई उम्मीदों की इबारत जरूर लिखेगा. कार्बन उत्सर्जन की कमी को लेकर दुनिया भारत की तारीफ कर रही है. इसके साथ ही माना जा रहा है कि अपने तय समय से पहले ही भारत अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेगा.

Related image

भारत लगातार पर्यावरण को संरक्षण की दिशा में काम कर रहा है माना जा रहा है कि नए साल मे इस काम में और तेजी आएगी. प्रदुषण की वजह से देश के अधिकतर हिस्सों की हवा खराब होती जा रही है. इसके लिए राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम का आयोजन कर केंद्र सरकार का लक्ष्य 2024 तक पीएम 2.5 और पीएम 10 को 20 से 30 फीसद कम करने का है. बताया जा रहा है कि इसे 102 शहरों में चलाया जाएगा. सरकार पेरिस समझौते के लक्ष्यों को पाने के लिए लगातार आगे बढ़ रही है, ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि यह लक्ष्य भी दूर नहीं है

जलवायु परिवर्तन को लेकर केंद्र और राज्य की योजनाओं को 2008 में स्वीकृति मिली. इन योजनाओं में ष्ट्रीय सौर मिशन और राष्ट्रीय उन्नत ऊर्जा दक्षता मिशन को सफलताएँ मिल रही हैं. 2014 में जब नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने तो उन्होंने नमामि गंगे प्रोजेक्ट की शुरुवात की थी. केंद्र सरकार ने केंद्र ने गंगा के संरक्षण और कायाकल्प के लिए 20 हजार करोड़ रुपयों का आवंटन किया. ए। सरकार ने समस्या को गंभीरता से लिया। इसमें नदी के किनारे रहने वाले लोगों को शामिल किया गया, और उन्हें स्थायी आजीविका प्राप्त करने में मदद की और प्रभाव को पहले महसूस किया.

Image result for नमामि गंगे प्रोजेक्ट

वहीँ राष्ट्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने पिछले साल मंत्रालय संभालते ही 125 करोड़ पेड़ लगाने का संकल्प लिया था। माना जा रहा है कि उनका यह संकल्प इस साल तेजी से आगे बढ़ेगा. संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम की रिपोर्ट के मुताबिक पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए भारत न सिर्फ अपने लक्ष्यों की ओर बढ़ रहा है बल्कि वह इसे पाने की दिशा में करीब 15 फीसद तेज है। यह बताता है कि भारत पर्यावरण संरक्षण को लेकर कितना गंभीर है। विकास और लाभ के लालच के चलते भी कहीं ना कहीं पर्यावरण को नुकसान पहुँच रहा है. सरकार इसके लिए भी समुचित व्यस्व्था करने की दिशा में काम कर रही है.

हालाँकि पर्यावरण को संतुलित करने में सरकार का ही प्रयास काफी नही है बल्कि इसमें आम लोगों, हमें और आपको भी भाग लेना होगा. पर्यावरण को ना ही नुकसान पहुंचाएंगे ना ही पहुंचाने देंगे.

अगर आपके पास भी पर्यावरण से जुडी कोई खबर है तो हमें whatsapp करें.

241 thoughts on “पर्यावरण संरक्षण को लेकर दुनिया कर रही है भारत की तारीफ!

Leave a Reply

Your email address will not be published.