झारखंड में अभी नई नियुक्तियां होगी, स्वरोजगार के लिए 25लाख तक ऋण उपलब्ध कराएंगे: हेमंत

  • सीएम ने गुरुकुल खूंटी-जमशेदपुर के 230 छात्रों को सौंपा नियुक्ति

रांची: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने मंगलवार को रांची स्थित झारखण्ड मंत्रालय के नये सभागार में कल्याण गुरुकुल खूंटी और जमशेदपुर के 230 छात्रों को नियुक्ति पत्र सौंपा। सभी छात्रों को निर्माण और इलेक्ट्रिशियन के कोर्स में तीन महीने का आवासीय प्रशिक्षण प्राप्त हुआ है। कार्यक्रम में कल्याण मंत्री चम्पई सोरेन, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह और अन्य वरीय अधिकारी भी उपस्थित रहे।

 

इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि नियुक्ति प्रक्रिया  चल रही है और युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए नियुक्ति प्रक्रिया अभी जारी रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में करीब डेढ़ वर्ष तक लोग घर बंदर रहने को मजबूर हुए। ऐसे में सबसे मुश्किल गरीबों को हुई, घर से बाहर निकलने पर भी उनके समक्ष कोरोना का संकट था, वहीं घर में रहने की स्थिति में भूखे मरने की स्थिति थी।

 

उन्होंने कहा कि अच्छी पढ़ाई करने वाले युवाओं कोविदेश भी रोजगार का अवसर आ रहा है। राज्य सरकार ने इसी क्रम में सात बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए विदेशों में भेजा है। उन्होंने बताया कि राज्य में पिछले दिनो जेपीएससी के माध्यम से 230 पदाधिकारियों की नियुक्ति हुई, 600 डॉक्टरों की नियुक्ति हुई, 24 जिलों में जिला खाद्य आपूर्ति पदाधिकारी की नियुक्ति हुई, चाईबासा मेंएसीसी सीमेंट फैक्ट्री में 150 लोगों को, मनरेगा के माध्यम से 500 लोगों को रोजगार मिला।

 

अभी मनरेगा में और भी नियुक्ति होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में वर्षाें से नियुक्ति प्रक्रिया लटकी थी, छह-सात  साल से जेपीएससी परीक्षा नहीं हुई, कुछ तत्व परीक्षा को बाधित करने की कोशिश करते है,ऐसे तत्वों से निपटते हुए नियुक्ति प्रक्रिया को जारी रखा जाएगा। आने वाले समय में 700 शिक्षकों की भी नियुक्ति होगी। इसके अलावा स्वरोजगार के माध्यम से भी राज्य में बड़े पैमाने पर रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा, युवाओं को 25 लाख रुपये तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा।