इस महिला ने पीएम मोदी से बताई अपनी समस्या, मात्र 3 घंटे बाद ही मिल गया समाधान

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्ट्रीट वेंडर्स से वर्चुअल संवाद किया. इनमें आगरा की एक प्रीति भी शामिल थी जिन्होंने प्रधानमंत्री से सबसे पहले संवाद किया. संवाद के बाद प्रधानमंत्री ने प्रीति के आत्मविश्वास की तारीफ भी की थी. वही पीएम मोदी से बात करते हुए प्रीती ने अपनी समस्याओं के बारे में बताया था. जिसके बाद नरेंद्र मोदी को अपनी समस्या बताने वाली महिला के समस्या का समाधान मात्र 3 घंटे में ही हो गया.

Pm Narendra Modi Virtual Samvad With Street Vendor Preeti In Agra - आगरा की  फल विक्रेता प्रीति के आत्मविश्वास से प्रभावित हुए पीएम मोदी, वर्चुअल संवाद  में की तारीफ - Amar Ujala

बता दें कि इस वर्चुअल संवाद में आगरा की प्रीति ने पीएम नरेंद्र मोदी से कहा कि उनके पति के पैरों में दिक्कत है और उनकी ये एक बड़ी समस्या है.जिसपर पीएम मोदी ने प्रीति को कहा कि वे अफसरों से कहेंगे कि उनकी समस्या का समाधान किया जाए

PHOTOS: पीएम मोदी से संवाद के तीन घंटे के भीतर ही बदल गई प्रीति की जिंदगी,  घर की मरम्मत के लिए मिला दो लाख का चेक- agra fruit vendor woman preeti life

इस समस्या की जानकारी होने के बाद प्रधानमंत्री के निर्देश पर कार्यक्रम के कुछ ही घंटों के भीतर ही आगरा के डीएम,नगर आयुक्त समेत तमाम वरिष्ठ अधिकारी प्रीति के घर पहुंच गए. घर पहुंचकर डीएम ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास को स्वीकृति दी. इसके साथ ही जिलाधिकारी के हस्तक्षेप पर 50 हज़ार और डेढ़ लाख की आवास किश्त परिवार को मुहैया कराई गई.

आपको बता दें कि ताजगंज निवासी प्रीति फल और नारियल पानी बेचती हैं. वह ताजगंज में अपनी रेहड़ी लगाती हैं.संवाद के दौरान प्रीति ने प्रधानमंत्री मोदी की स्वनिधि योजना कोडूबते को तिनके का सहाराबताया.

Pm Modi Virtual Dialogue Street Vendor Preeti Happy Before Diwali - प्रीति  के घर 18 दिन पहले ही आ गईं दिवाली की खुशियां, बोलीं- सपना सच हो गया... -  Newsyatra

प्रीति ने बताया कि लॉकडाउन से पहले वो सब्जी का ठेला लगाती थीं, लेकिन काम ठप हो गया था. जिसके बाद उन्होंने लॉकडाउन से उबरने के लिए स्वनिधि योजना के तहत 10000 रुपये का कर्ज लिया और एक बार फिर से अपना काम-धंधा शुरू कर दिया हैइसके लिए उन्होंने पीएम मोदी और सीएम योगी दोनों को धन्यवाद दिया. प्रीति ने प्रधानमंत्री से पति के इलाज के लिए मदद मांगी, जिसके बाद कुछ ही घंटों के भीतर ही उन्हें मदद मिल गई.