दो सबसे बड़े इनामी नक्सली गाजियाबाद और सिमरिया से गिरफ्तार

रांची: दो हार्डकोर नक्सलियों को पकड़ने में झारखंड पुलिस को सफलता मिली है. पूर्वी क्षेत्र के जोनल कमांडर प्रद्युमन शर्मा को हजारीबाग पुलिस ने पकड़ा है. जिस पर 25 लाख रुपये इनाम घोषित है तो वहीं सिमरिया में भी चतरा पुलिस ने 15 लाख के इनामी नक्सली को धर दबोचा है. दो हार्डकोर व इनामी नक्सलियों को अलग-अलग स्थानों से पकड़ने में झारखंड पुलिस को सफलता मिली है. आइबी की सूचना पर गाजियाबाद (यूपी) से गया पूर्वी क्षेत्र के जोनल कमांडर प्रद्युमन शर्मा को हजारीबाग पुलिस ने पकड़ा है. उस पर 25 लाख रुपये का इनाम घोषित है.

 

गाजियाबाद से उसे रांची लाया जायेगा. वहीं माओवादी संगठन के ही कुलेश्वरी जोन के रीजनल कमांडर और 15 लाख के इनामी रमेश गंझू उर्फ अंकित उर्फ आजाद (डुंगीकोचा, थाना सदर, चतरा) को चतरा पुलिस ने 13 अगस्त की रात को सिमरिया से पकड़ा है. आजाद ने पुलिस को अहम जानकारी दी है. इस आधार पर चतरा पुलिस की टीम लगातार छापामारी कर रही है.

 

प्रद्युमन शर्मा वर्ष 2003-04 से ही नक्सली संगठन के लिए काम कर रहा था. उसका एक हाथ और एक आंख बेकार है. बावजूद इसके वह लंबे समय से झारखंड-बिहार पुलिस और सीआरपीएफ के लिए परेशानी का सबब बना हुआ था. प्रद्युमन और आजाद की गिरफ्तारी से नक्सली संगठन को बड़ा झटका लगा है. आजाद कुलेश्वरी जोन में चतरा के अलावा हंटरगंज, मदनपुर, आमस व गया क्षेत्र में नक्सली घटना को अंजाम देता था . वहीं प्रद्युमन गया की सीमा से सटे हजारीबाग, पलामू व चतरा पुलिस के लिए सिरदर्द बना था. हालांकि गिरफ्तारी के संबंध में पुलिस कुछ भी बताने से इनकार कर रही हैं.