झारखंड में कोविड-19 वैक्सीन की वेस्टेज कम हुई : बन्ना गुप्ता

रांची: राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि झारखंड उन प्रदेशों में शामिल हैं, जहां लोग एक-एक अन्न के दाने का सम्मान करते हैं। उसकी कीमत समझते है। यही कारण है कि राज्य में राष्ट्रीय औसत से काफी कम कोविड-19 वैक्सीन की वेस्टेज हुई है। स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को रांची स्थित कांग्रेस भवन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि 13 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सामने यह घोषणा की कि भारत पूरी दुनिया के लिए वैक्सीन हब बनेगा। दुनिया भर के देशों को कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध कराया जाएगा। लेकिन अब देश में ही वैक्सीन की कमी होने लगी है। यही कारण है कि झारखंड जैसे पिछड़े राज्यों में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर लगभग अब बंद होने के कगार पर है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की कमी के कारण ही केंद्र सरकार ने पहले चार सप्ताह, छह सप्ताह और 12 से 16 हफ्ते के अंतराल में दूसरा डोज लेने की बात करने लगी है।