झारखंड-बिहार में बारिश, जानें यूपी-दिल्ली सहित अन्य राज्‍य के मौसम का हाल

भयंकर गर्मी की मार झेल रहे झारखण्ड वासियो के लिए मौसम विभाग एक अछि खबर लेकर आया है। मौसम विभाग के अनुसार, झारखंड में इस बार समय से पहले माॅनसून आने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार, 28 व 29 मई को झारखंड के कई हिस्सों में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने व बारिश होने की संभावना व्यक्त की गयी है।  वही  27 मई यानि की आज के दिन आकाश में बादल छाया रहेगा तो  कहीं -कहीं ठनका भी गिर सकता है. मौसम विभाग  के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में अगले 48 घंटे में एक बार फिर निम्न दवाब का क्षेत्र बनने की संभावना है जिसके कारण संताल परगना, रांची सहित पश्चिम बंगाल से सटे इलाके में बारिश हो सकती है।  गुरुवार को गोड्डा में सबसे अधिक 34.8 मिमी बारिश हुई।

जून में मॉनसून आने की संभावना

झारखंड मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में मॉनसून की हलचल शुरू हो गई है. जिसको देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि  झारखंड में 12 से 15 जून के बीच मॉनसून आने की संभावना है. बंगाल की खाड़ी और अंडमान सागर के दक्षिणी हिस्सों में मॉनसून दस्तक दे चुका है। झारखंड के चतरा, गुमला, हजारीबाग, खूंटी और पलामू जिले के कुछ इलाकों में अगले एक से तीन घंटे के अंदर हल्की से मध्‍यम दर्जे की बारिश की संभावना मौसम विभाग ने व्‍यक्‍त की है. इन जिलों में तेज हवा भी चलने के आसार हैं। माना जा रहा कि केरल में मानसून 1 जून तक किसी भी समय आ सकता है। 

बिहार में मौसम ने बदला मिजाज

बिहार में गुरुवार को एक बार फिर से मौसम ने मिजाज बदला है. जिससे लोगों को भीषण गर्मी और तेज धूप से थोड़ी सी राहत मिली है  पिछले 24 घंटों में राजधानी पटना के कई हिस्सों में झमाझम बारिश हुई। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक ‘अभी भी पूरे प्रदेश में पूर्वी और दक्षिण पूर्वी हवा का प्रवाह सतह से 0.9 किमी ऊपर तक बना हुआ है। इसकी रफ्तार 8-10 किलोमीटर प्रति घंटा है। साथ ही एक उत्तर-दक्षिण ट्रफ रेखा पूर्वी बिहार से उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके तक, झारखंड और ओडिशा से होकर समुद्र तल से 1.5 किमी और 2.1 किमी के बीच अवस्थित है। इन मौसमी कारकों के प्रभाव से अगले 24 घंटों में बिहार के उत्तर पूर्व और दक्षिण भागों के एक-दो स्थानों पर बिजली की गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।’

उत्तर प्रदेश में बारिश की संभावना

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार 27 मई से 31 मई तक उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर गरज के साथ बारिश की संभावना है \ इसका सबसे ज्यादा असर पश्चिमी यूपी के जिलों में नजर आ सकता है. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को बारिश का अनुमान विभाग की ओर से लगाया गया है।