Weather Update: पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, जानें आपके राज्य में कैसा रहेगा मौसम

देश के ज्यादातर हिस्‍सों में अब तापमान में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. भारत मौसम विज्ञान विभाग पहले ही पूर्वानुमान लगा चुका है कि मार्च से लेकर मई तक अधिकांश जगहों पर तापमान सामान्‍य से अधिक रहने की संभावना है. इस बीच आईएमडी ने जानकारी दी है कि उत्‍तरी पाकिस्‍तान के ऊपर एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ उत्‍पन्‍न हुआ है. इसका असर भारत के भी कुछ हिस्‍सों पर देखने को मिल सकता है.

Rain Will Be In These Area Of Rajasthan - भीषण गर्मी से तप रहे प्रदेश में  यहां गिरे ओले, अब पश्चिमी विक्षोभ से इन भागों में हो सकती है बारीश |  Patrika News

आईएमडी के मुताबिक इस पश्‍चिमी विक्षोभ के कारण 3 और 4 मार्च को जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद में बारिश के साथ बर्फबारी की संभावना बन रही है. इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड के भी अधिकांश हिस्‍सों में 3 और 4 मार्च को बारिश और बर्फबारी के आसार है. इसके आलावा आज बुधवार को इन सभी जगहों पर बर्फीले तूफान की भी संभावना जताई गई है.

मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक और पश्चिमी विक्षोभ उत्‍पन्‍न हो रहा है.जिसका असर इस क्षेत्र में 5 मार्च से पड़ने की संभावना है.इसके प्रभाव की वजह से 6 से 8 मार्च तक क्षेत्र में भारी बारिश और बर्फबारी देखने को मिल सकती है.

मौसम अलर्ट: पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में  बारिश के आसार, गिरेगा तापमान

वही अगर दिल्ली के मौसम की बात करें तो में इस हफ्ते मौसम का मिलाजुला मिजाज देखने को मिलेगा. अगले 6 दिनों तक यहां के तापमान में उतार-चढ़ाव जारी रहेगा. साथ ही 5 मार्च को दिल्ली में ठंडी हवाएं चल सकती हैं. वहीं 8 मार्च तक राजधानी का अधिकतम तापमान 33 डिग्री रहने का अनुमान है और न्यूनतम तापमान 17 डिग्री तक पहुंच सकता है. इस हफ्ते ओडिशा में पारा 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है. मौसम विभाग के मुताबिक ओडिशा इस वर्ष सबसे गर्म राज्य रह सकता है. ओडिशा के अलावा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, गोवा और गुजरात जैसे राज्यों में मई तक गर्मी का सितम सामान्य से ज्यादा रहने वाला है.

अगले दो से तीन दिन तक अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी तेज गरज के साथ बारिश होने की संभावना है. 4 मार्च को असम और मेघालय में तूफान की भी आशंका जताई गई है.