Weather Update: मौसम विभाग की भविष्यवाणी- इस दिन होगी दिल्ली में मॉनसून की एंट्री, जानें आपके शहर में मौसम का हाल क्या है?

दिल्ली में गर्मी से लोगों को राहत मिलती हुई नजर नहीं आ रही है. भारतीय मौसम विभाग ने पहले भविष्यवाणी की थी कि दिल्ली में अपने नियत समय से 15 दिन पहले ही मानसून दस्तक दे देगा लेकिन ये भविष्यवाणी सच साबित नहीं हुई. अब मौसम विभाग ने पूर्वानुमान लगाया है कि दिल्ली में पांच दिन बाद मानसून की एंट्री होने वाली है. आईएमडी ने कहा है कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के धीमा होने के कारण दिल्ली, हरियाणा और चंडीगढ़ में मानसून का आगमन भी कमजोर हो गया है. साथ ही पंजाब, पश्चिमी यूपी और राजस्थान के बाकी हिस्सों में पांच दिन तक मानसून के आने की कोई संभावना नहीं बन रही है.

Monsoon over Delhi, neighbouring states likely to be slow says IMD | मौसम  विभाग की भविष्यवाणी, दिल्ली और पड़ोसी राज्यों में फीका रहेगा मानसून | Hindi  News, राष्ट्र

मौसम विभाग का कहना था कि बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के कारण मानसून के 15 दिन पहले आने की संभावना थी. लेकिन पश्चिमी हवा का प्रभाव कमजोर पड़ने के कारण मानसून के पहले आने की संभावना भी कमजोर पड़ गई.

मौसम विभाग के मुताबिक हालांकि देश के कई हिस्सों में अभी मानसून नहीं आया है लेकिन 1 से 20 जून के बीच देश में 41 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है. उत्तर पश्चिम भारत में इस अवधि के दौरान 83 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है जबकि मध्य भारत में 67 प्रतिशत और दक्षिणी प्रायद्वीप में 28 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है.

वही, मौसम के लिहाज से अलग अलग राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. पूर्वी यूपी में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, जबकि दिल्ली-एनसीआर के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है. बिहार में मानसून अपने चरम पर है. बिहार में रुक-रुककर लगातार बारिश हो रही है, जिससे चारों तरफ पानी भर गया है.

Monsoon Update widespread rainfall with isolated heavy to very heavy falls  very likely over East Uttar Pradesh & Bihar during next 24 hours

मौसम विभाग ने बताया कि अगले 3 – 4 दिनों में ओडिशा, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ (महाराष्ट्र) और तेलंगाना में भारी बारिश हो सकती है. वहीं अगले 4-5 दिनों पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भारी बारिश होने की संभावना है. महाराष्ट्र , गोवा और कर्नाटक के तटीय जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश के आसार हैं, जो अगले 5 दिनों में हो सकती है. केरल की अलग-अलग जगहों पर भी भारी बारिश के आसार हैं.