Weather Update: देश के ज्यादातर हिस्सों में बारिश नहीं, लेकिन मौसम विभाग ने दी चेतावनी!

देश के ज्यादातर हिस्सों में इस वक्त बारिश की गतिविधियां देखने को नहीं मिल रही हैं. क्योंकि  उत्तर भारत के भागों पर कोई सक्रिय पश्चिमी-विक्षोभ नहीं है इसलिए पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश नहीं हो रही है. जबकि, दक्षिण भारत में उत्तर-पूर्वी मानसून अभी भी सक्रिय है. इसलिए इन्हीं इलाकों में बारिश देखने को मिल सकती है. पूर्वोत्तर भारत में भी कोई सिस्टम नहीं है, बावजूद पश्चिम खाड़ी से गुजरने वाली नमी का असर देखने को मिल रहा है.

दक्षिण भारत की बात करें तो ‘स्काईमेट वेदर’ के अनुसार, इन राज्यों में बंगाल की खाड़ी से नमी भरपूर आ रहा है। इसी वजह से यहां मौसमी हलचल देखने को मिलेगी. तमिलनाडु और तटवर्ती आंध्र प्रदेश के कुछ शहरों में हल्की से मध्यम बौछारें देखने को मिल सकती है. पुडुचेरी, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, केरल में भी कुछ जगहों पर हल्की वर्षा का पूर्वानुमान है. उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, पूर्वी तेलंगाना और उत्तरी आंतरिक कर्नाटक में भी हल्की बारिश की संभावना है. दक्षिण के राज्यों में बादलों का असर भी रहेगा. मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा और कोंकण-गोवा में भी शनिवार 11 दिसंबर को को बादल रहेंगे। दक्षिणी छत्तीसगढ़ और दक्षिणी ओडिशा में भी बादल देखने को मिलेंगे. शेष ओडिशा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, दादरा नगर हवेली और दमन दीव में मौसम मुख्यतः साफ और शुष्क रहेगा.

अगर बात राजधानी दिल्ली के मौसम की करें तो दिल्ली में सर्दी बढ़ गई है. भारत मौमस विज्ञान विभाग के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. वहीं, अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस बना रहने का अनुमान है. दिल्ली में अगले 3-4 दिन तापमान के गिरने के साथ ही कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है. वही हरियाणा और पंजाब में सीधी उत्तरी हवाएं आएंगी, जिससे तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी. अगर बात पर्वतीय राज्यों के मौसम की करें तो हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर, गिलगित, बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और लद्दाख के सभी शहरों में मौसम शुष्क और साफ़ रहेगा. यहां गुलमर्ग, कुलगाम, पहलगाम से लेकर मनाली और चंबा तक पारा गिरेगा. पूर्वानुमान है कि इन हिस्सों में शून्य से 2 से 5 डिग्री तक तापमान नीचे चला जाएगा.