Weather Update: तेज बारिश, भूस्खलन, बाढ़ और आंधी की चेतावनी! जानें आपके राज्य के मौसम का हाल

मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल रहा है. कई राज्यों में तापमान में तेजी से वृद्धि देखने को मिल रही है. तो कहीं भारी बारिश, भूस्खलन और धूलभरी आंधी की चेतावनी भी जारी की गई है. दिल्ली समेत देश के कई राज्यों का मौसम अचानक बदल गया है. मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली में अगले 48 घंटों के अंदर 40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा चलेगी. दिल्ली सहित गंगा के मैदानी क्षेत्रों में अगले दो-तीन दिनों तक उत्तर पश्चिम दिशा से तेज धूलभरी हवाएं चलेंगी.जिसके बाद दिन के तापमान में गिरावट के आसार हैं.

Uttarakhand: केवल 6 दिनों की बारिश ने तोड़ा दो सालों का रिकॉर्ड - Live  Today | DailyHunt

आईएमडी ने कहा कि दक्षिण असम, मेघालय, त्रिपुरा और मिजोरम में 31 मार्च को भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. इसको लेकर मौसम विभाग ने यहां ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. अरुणाचल प्रदेश में 1 अप्रैल को भारी बारिश हो सकती है. आईएमडी ने कहा, ‘इसके चलते दक्षिण असम, मेघालय, त्रिपुरा और मिजोरम में कुछ स्थानों पर भूस्खलन और निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति बन सकती है.’ भारी बारिश के कारण विजिबिलिटी में कभी-कभार कमी हो सकती है.

IMD ने 2 अप्रैल तक पूर्वोत्तर भारत पर ओले पड़ने की भी भविष्यवाणी की है. आईएमडी ने कहा है कि 2 अप्रैल तक क्षेत्र में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. ये बंगाल की खाड़ी से निचले स्तर की दक्षिण-पूर्वी हवाओं के प्रभाव के चलते होगा. दुसरी ओर मौसम विभाग ने बताया कि राजस्थान, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, विदर्भ, तेलंगाना में मौसम बहुत गर्म रह सकता है.

weather forecast live update monsoon imd weather forecast delhi up mp bihar  jharkhand west bengal rajasthan rain thunderstorm | Weather Forecast Update  : बेंगलुरु और असम में बारिश का कहर जारी, जानें

बदले मौसम के बीच राजस्थान की राजधानी जयपुर सहित अनेक जिलों में मंगलवार दोपहर आंधी देखने को मिली इस दौरान 30-40 किलोमीटर प्रति घंटे रफ्तार से धूलभरी हवाएं चल रही थी. इस आंधी ने राजधानी जयपुर सहित जैसलमेर, बीकानेर व जोधपुर सहित अनेक जिलों को अपनी आगोश में ले लिया. इससे लोगों को गर्मी से तो थोड़ी राहत मिली लेकिन तेज हवा के साथ उड़ती रेत से लोग बुहत परेशान हुए. इस आंधी से अभी लोगों को राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. मौसम विभाग के अनुसार आगामी 24 घंटों के दौरान राजस्थान के कई जिलों में 30-50 किलोमीटर प्रति घंटे रफ्तार की धूलभरी हवाएं चलने की सम्भावना है. वहीं बीते चौबीस घंटे में चुरू में अधिकतम तापमान 43.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि मार्च के महिने में अब तक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान है. इससे पहले 31 मार्च 2017 को मार्च महिने में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 43.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.