Weather Update: भीषण गर्मी के बीच कई राज्यों में क्यों हो रही है तेज बारिश! जानें मौसम का हाल

देशभर में मई का पहला सप्ताह शुरू होते ही मौसम का मिजाज बदलने लगा है. गर्मी के साथसाथ कई राज्यों में बारिश का दौर शुरू हो गया है. खासकर उत्तरपूर्वी राज्यों और मध्य भारत के कई इलाकों में लगातार बारिश हो रही है. मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों तक बारिश का दौर जारी रह सकता है. राजस्थान में कई स्थानों पर हल्की बारिश के साथ धूल भरी आंधी देखने को मिलेगी. जबकि पंजाब और हरियाणा के 1-2 जिलों में हल्की बारिश के साथ आंधी के आसार है.

Imd Forecast Why Thunderstorm Rain Hailstorm In Hot May Weather Update - भीषण  गर्मी वाले मई में आंधी, बारिश और ओलावृष्टि क्यों? IMD वैज्ञानिकों ने बताई  बड़ी वजह | Patrika Newsवही अगर बात राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की करें तो यहां आज मंगलवार को आसमान में आंशिक तौर पर बादल छाये रहेंगे और बादल गरजने के साथ बिजली चमकने की भी संभावना है. सोमवार को यहां का अधिकतम तापमान 39.7 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से एक डिग्री अधिक है. वही राजधानी में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में बना हुआ है

स्काईमेट वेदर के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान, उत्तर और पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिण और पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तरपूर्व भारत, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ 1-2 स्थानों पर तेज बारिश की संभावना जताई गई है. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य महाराष्ट्र, कर्नाटक, गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इसके साथ ही बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, रायलसीमा और तमिलनाडु में भी हल्की बारिश के आसार है.

Weather Forecast Imd Alert Rain Thunderstorm In First Week Of May - Weather  Forecast: 'आफत' से भरा होगा मई, पहले सप्ताह में तेज बारिश और तूफान की आशंका  | Patrika News

पिछले दो दिनों के दौरान के दौरान, देश के अधिकांश हिस्सों में प्री मानसून की गतिविधियां तेज हो गई हैं. यही वजह है कि देश के कई इलाकों में बारिश का दौर जारी है.

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने के कारण कई राज्यों में बारिश की संभावना बनी हुई है.वही आईएमडी ने कहा है कि इस साल 96 प्रतिशत से लेकर 104 फीसदी तक बारिश होने की संभावना है, जो कि सामान्य से अच्छी बारिश की श्रेणी में आती है. मानसून सीजन जून से लेकर सितंबर तक रहेगा. इस बार मानसून सामान्य होगा. कोरोना संकट से जूझ रहे भारत के लिए ये अच्छा संकेत है.