प्रेग्नेंसी के वक्त इस फल को भूल कर भी मत खाना, हो जायेंगे परेशान!

प्रेग्नेंसी के वक्त मां को बहुत एहतियात बरतनी पड़ती है..प्रेग्नेंट महिला को खाने-पीने का खासतौर पर ध्यान देना पड़ता है, क्योंकि माँ जो कुछ भी खाती हैं, उसका असर सीधा उनके गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है.ऐसे में हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसी चीजें जिनको प्रेग्नेंट लेडी को खाने से बचना चाहिए..
सबसे पहले तो इस लिस्ट में शामिल होता है पपीता

पपीता-हमेशा फायदा पहुंचाने वाला ये फल सेहत के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस दौरान पपीता खाने से मिसकैरज की संभावना बढ़ जाती है, दरअसल कच्चे या आधे पके हुए पपीते में लैटेक्स की अधिक मात्रा होती है, जो कि गर्भाश्य को नुकसान पहुंचाता है..

कच्चा अंडा-कच्चे अंडा में हानिकारक जीव, ई-कोलाई और साल्मोनेला पाया जाता है.यह प्रेग्नेंट महिला में आंतों का इंफेक्शन पैदा कर सकता है.इसलिए इस दौरान कच्चा अंडा खाने से भी बचे.

चाइनीज फूड-जंक फूड तो हमेशा से ही हेल्थ के लिए ठीक नहीं होते है लेकिन बात अगर प्रेग्नेंसी के दौरान की हो तो ये और भी ज्यादा खतरनाक हो जाती है.इसमें मौजूद एमएसजी यानी मोनो सोडियम गूलामेट, जो फीटस के विकास के लिए बेहद हानिकारक है और इसके चलते कई बार जन्म के बाद भी बच्चे में डिफेक्ट्स दिख सकते हैं. इसमें मौजूद सोया सॉस में नमक की भारी मात्रा होती है, जो हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकती है.

ज्यादा नमक-इस दौरान जरूरत से ज्यादा नमक खाना भी खतरनाक साबित हो सकता है. इससे दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है..लेकिन प्रेग्नेंसी में न केवल ब्लड प्रेशर बढ़ता है, बल्क‍ि ज़्यादा नमक खाने से चेहरा, हाथ, पैर आदि में सूजन आ सकता है.

शराब-शराब तो किसी भी स्थिति में अच्छी नहीं मानी जाती है मगर प्रेगनेंसि के दौरान शराब बस प्रेगनेंट महिला को ही नुक़सान नहीं पहुँचाता बल्कि ड्रिंक करने से बच्चे के विकास पर बुरा असर भी पड़ता है.