भारत में कहाँ बनाया गया सबसे बड़ा आइसोलेशन सेंटर, यूपी में कोरोना महामारी घोषित

देश में कोरोना वायरस का कहर है लगातार इससे जुड़े मामले बढ़ते जा रहे हैं. आपको बता दें कि यदि कोई व्यक्ति कोरोना वायरस का संदिग्ध पाया जाता है तो जाँच के लिए एक प्रकिर्या है जिसमें आइसोलेट प्रोसेस कहते हैं जिसमें 14 दिन का वक्त लगता है. वैसे तो भारत में प्रशासन ने अलग-अलग जिलों में ऐसे केंद्र बनाए गए हैं..  लेकिन क्या आपको पता है भारत का सबसे बड़ा आइसोलेटड सेंटर कहाँ है? आइये हम आपको बताते हैं.

दरअसल आईटीबीपी का दिल्ली के छावला स्थित आइसोलेशन सेंटर पिछले 2 महीनों से बखूबी अपनी भूमिका निभा रहा है. यह देश का सबसे बड़ा आइसोलेशन सेंटर है कोरोना वायरस निपटने के लिए. पूरे विश्व में जैसे ही कोरोना वायरस क्षेत्र के खतरे की खबर सामने आने लगी महज चंद दिनों में भारत सरकार के निर्देश पर आईटीबीपी ने इस खास कैंप को तैयार किया. इस कैंप में करीब 1000 बेड हैं. यहाँ पर मरीज की जाँच कि जाती है नमूने लिए जाते हैं और फिर रिपोर्ट और अधिकारीयों के आदेश के बाद मरीज को आगे के अस्पताल में ले जाया जाता है. इस आइसोलेशन सेंटर में अब तक वुहान से लाये गए सबसे ज्यादा 518 लोगों का सफलतापूर्वक आइसोलेशन पीरियड पूरा किया जा चुका है.. इस कैंप में चार पृथक बेड उपलब्ध हैं और जीवन रक्षक उच्च तकनीक वाली एम्बुलेंस भी मुहैया करवायी गई थीं.

कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित चीन के वुहान से 27 फरवरी, 2020 को भारत लाए गए 112 लोगों को आईटीबीपी के इस आइसोलेशन सेंटर (छावला, नई दिल्ली) में रखा गया. जिसके बाद इनके कोरोना वायरस परीक्षण हेतु नमूने लिए गए. इनकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर इन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया.. कोरोना को वजह से दिल्ली समेत कई राज्यों में इसे महामारी घोषित किया जा चुका है.. स्कूल कालेज और सिनेमा हॉल बंद करने के आदेश दिए गये हैं. आप भी सावधान रहिये.. सतर्क रहिये और खुद को सुरक्षित रखिये देखिये रहिये पर्यावरण पोस्ट