दिल्ली में आखिर क्यों बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले? सामने आई ये बड़ी वजह

दिल्ली में प्रदुषण के साथ साहत कोरोना संक्रमण के भी फैलने की आशंका जताई जा रही थी लकिन अब ये आशंका हकीकत बनती दिखाई दे रही है. पिछले 24 घंटे में राजधानी दिल्ली में कोरोना के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं. यहां 7178 नए मामले सामने आए हैं जबकि 64 नए मरीजों की मौत हुई है. राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 4,23,831, हो गया है और साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6833 हो गई है. राजधानी दिल्ली में कोरोना से ठीक हुए या फिर दिल्ली से जा चुके लोगों की संख्या  3,77,276 है. पिछले 24 घंटे में कोरोना से 6121 लोग ठीक भी हुए हैं. यहां सक्रिय मामलों की संख्या 39,722 है.

आंकड़ों के मुताबिक राजधानी दिल्ली में संक्रमण दर 12.19 फीसदी है जबकि रिकवरी दर 89.01 फीसदी. कोरोना से सूबे में डेथ रेट 1.61 प्रतिशत है और सक्रिय मरीजों की दर 9.37 फीसदी.

दिल्ली में कोरोना के ममाले बढ़ने के पीछे प्रदुषण कोबड़ी वजह तो माना ही जा रहा है लेकिन इसेक साथ ही बैंक, पोस्ट ऑफिस, रजिस्ट्रार ऑफिस, मार्केट और सार्वजानिक जगहों पर लापरवाही बरत रहे हैं.. लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नहीं दिख रहे हैं। आलम यह है कि लोग मार्केट में बिना मास्क के भी घूम रहे हैं। वहीँ अब दिल्ली के हालत पर दिल्ली हाई कोर्ट ने भी नाराजगी जाहिर की है. दिल्ली हाई कोर्ट ने राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 मरीजों की बढ़ती संख्या पर नाखुशी जताते हुए टिप्पणी की कि दिल्ली जल्द ही ‘देश की कोरोना राजधानी’ बन सकती है। कोर्ट ने कहा कि दिल्ली सरकार महामारी के मामले में पूरी तरह से ‘गलत’ रास्ते पर चली गई है। वह नागरिकों के स्वास्थ्य को हल्के में ले रही है और इस मामले को अलग से देखा जाएगा। अदालत ने कहा कि दिल्ली सरकार ने सबसे अधिक जांच करने सहित कई दावे किए हैं, लेकिन कोविड-19 मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना के इन हालातों के बीच प्रदुषण अपने चरम पर है.  दिन धुंध में गायब सा दिखाई देता है. प्रदुषण के कारण कोरोना के मरीजों को आर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.. वहीँ आम लोगों को भी आख्नों में जलन, गले में खरास जैसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है. डाक्टरों ने सालाह दी है कि अगर जरूरी है तो ही घरों से बाहर निकले.. मुंह और आँख ढकना बिलकुल ना भूले.अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें