आखिर क्यों, शिमला और मसूरी की ठंड दिल्ली के ठंड के आगे पड़ी फीकी

पिछले कुछ दिनों से दिल्लीवासियों को कड़ाके की ठंड की मार को झेलना पड़ रहा है। इस साल के ठंड ने दिसंबर महीने में दिल्ली-एनसीआर में पिछले 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। दिसंबर महीने में दिल्ली-एनसीआर में पहाड़ी इलाकों से भी ज्यादा ठंड पड़ रही है। शिमला और मसूरी भी दिल्ली के तापमान के आगे फीके पड़ गए हैं।

मौसम विभाग की मानें, तो दिल्ली में सफदरजंग का तापमान शिमला और मसूरी से भी कम है। सफदरजंग में शनिवार रात न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि शिमला में 4 और मसूरी में 3.9 डिग्री। वहीं, दिल्ली के पालम इलाके में रविवार को न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस था। जबकि, शिमला में 2.8 और मसूरी में 4.0 डिग्री सेल्सियस रहा।

Image result for शिमला का तापमान

शिमला-मसूरी से भी कम रहा दिन का तापमान
शनिवार यानी 28 दिसंबर को दिल्ली के सफदरजंग में दिन का तापमान 13.3 डिग्री रहा। जबकि शिमला का 14.8 और मसूरी का 14.1 डिग्री रहा। वहीं, पालम का पारा रविवार को 13.5 डिग्री रहा, जबकि शिमला का 14.4 और मसूरी का 14.5 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग ने अनुसार कारण?


मौसम विभाग के वैज्ञानिकों की मानें तो ऐसा कोहरे की वजह से हो रहा है। कोहरे के कारण सूर्य की रोशनी जमीन तक नहीं पहुंच पा रही है, इसलिए तापमान में बढ़ोतरी नहीं हो रहा है।

Image result for शिमला का तापमान

आने वाले 4 दिनों तक नहीं मिलेगी ठंड से राहत –


मौसम विभाग की मुताबिक अगले चार दिनों तक दिल्ली को ठंड से राहत नहीं मिलेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि पश्चिमी हवाओं के कारण 31 दिसंबर से अगले चार दिनों तक बारिश और बर्फबारी होगी। इससे दिल्ली और आसपास के इलाकों में ठंड बढ़ने के आसार है।