क्या 2024 तक मिल पाएंगी कोरोना की वैक्सीन? यहां जाने वैक्सीन से जुड़े सारे अपडेट…

दुनियाभर में 180 से ज्यादा कोरोना वैक्सीन के विकास का काम चल रहा है. इनमें से करीब 25 वैक्सीन परीक्षण के अंतिम दौर में हैं. लेकिन इस बीच दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रमुख अदार पूनावाला ने कहा है कि साल 2024 के अंत से पहले सभी को दिये जाने के लिए कोरोना वायरस वैक्सीन का निर्माण नहीं हो सकेगा. उन्होंने कहा कि दवा कंपनियों ने उत्पादन में तेजी से बढ़ोतरी नहीं की है, जिससे दुनिया की पूरी आबादी को कम समय में टीके लगाए जा सकें. पूनावाला ने कहा, ‘इस धरती पर सभी को वैक्सीन मिलने में चार से पांच साल का समय लग जाएगा.’

Coronavirus News Hyderabad and Pune will give Corona vaccine supplements to the world jagran special

हालांकि इन सब के बीच UAE-चीन की कोरोना वैक्‍सीन को लेकर अच्छी खबर भी सामने आ रही है. कोरोना वायरस से जूझ रहे संयुक्‍त अरब अमीरात को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. यूएई के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने घोषणा की है कि कोरोना वैक्‍सीन इंसानों पर ट्रायल में सफल रही है और अब इसके स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों पर ‘आपातकालीन इस्‍तेमाल’ को मंजूरी दे दी गई है. एक मंत्री ने कहा कि यह वैक्‍सीन अग्रिम मोर्चे पर कोरोना से जंग लड़ रहे स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों के लिए उपलब्‍ध होगी.यूएई के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री अब्‍दुल रहमान बिन मोहम्‍मद ने कहा कि इस वैक्‍सीन को पूरी तरह से नियमों और कानूनों के आधार पर मंजूरी दी गई है. इस वैक्‍सीन को यूएई की G42 हेल्‍थकेयर और चीन की दवा कंपनी Sinopharm CNBG ने मिलकर बनाया है. ट्रायल के दौरान सभी लोगों का 42 दिनों तक गहन परीक्षण किया गया.

वही अमेरिका की मल्‍टीनैशनल दवा कंपनी फाइजर ने भी इस साल के आखिरी तक वैक्‍सीन लॉन्‍च करने की संभावना जताई है. कंपनी के सीईओ अल्‍बर्ट बूर्ला के मुताबिक, अक्‍टूबर खत्‍म होते-होते यह साफ हो जाएगा कि उनकी वैक्‍सीन कोविड-19 के खिलाफ असरदार है या नहीं. उन्‍होंने एक टीवी इंटरव्‍यू में कहा कि इसकी 60 फीसदी संभावना है कि अक्‍टूबर के अंत तक क्लिनिकल रिसर्च के नतीजे आ जाएं. इसी में पता चलेगा कि वैक्‍सीन काम करती है या नहीं. फाइजर ने यह वैक्‍सीन जर्मन बायोटेक कंपनी BioNTech के साथ मिलकर डेवलप की है. वैक्‍सीन के फेज 3 ट्रायल की सफलता की कोई गारंटी नहीं है, लेकिन कंपनी ने वैक्‍सीन का उत्‍पादन शुरू कर दिया है.