बिना बैट्री, बिना लाइट के गर्म रहने वाला टेंट, सोनम वांगचुक पर बनी है फिल्म थ्री इडियट्स

देश के दुश्मनों को उसी की भाषा में जवाब देने के लिए हमारे देश के जवान कई महीनों तक बेहद ठण्ड वाले इलाकों में रहते हैं.. जहाँ रहना आम इंसान के लिए बिलकुल आसन नही होता है लेकिन अब भारत के ही एक प्रसिद्द इंजीनियर ने के पद्धति से एक ख़ास तरीके का टेंट बनाया है जिसे ना तो लाइट की जरूरत होगी और ना ही बैट्री की फिर जवान आराम से इस टेंट के अंदर गर्मी का एहसास कर सकेंगे..

मशहूर भारतीय आविष्कारक सोनम वांगचुक ने एक ऐसा टेंट तैयार किया है, जो बिना बिजली और बैटरी के बर्फीली चोटियों में जवानों को गर्म रखेगा. सोनम वांगचुक पर मशहूर फिल्म थ्री इडियट्स बनी थी. सोनम ने ट्वीट कर बताया कि जब जाड़े की रात में बाहर तापमान -14 डिग्री सेल्सियस होगा, तो टेंट के भीतर 15 डिग्री मेंटेन रहेगा. यही नहीं, सोनम के मुताबिक इस टेंट के लिए केरोसिन नहीं चाहिए और यह पूरी तरह पर्यावरण के अनुकूल (Eco Friendly Innovation) है.
इस टेंट को पूरी तरह डिसमेंटल किया जा सकता है और एक एक पुर्ज़ा वापस जोड़कर इसे किसी भी जगह फिर लगाया जा सकता है. कुल मिलाकर इस टेंट का वज़न आकार के मुताबिक 30 किलोग्राम के भीतर है. यानी इसे लोकल पोर्टर या जवान अपनी पीठ या कंधे पर कैरी कर सकते हैं.
इस टेंट के तीन हिस्से हैं. पहला हिस्सा सूरज की रोशनी से गर्म होता है. दूसरा हिस्सा खास किस्म की दीवार है. दीवार सूरज की गर्मी को सोखकर रोक लेती है. तीसरा हिस्सा थर्मल वॉल है . थर्मल वॉल अंदर की गर्मी बाहर नहीं जाने देती. ये तीनों हिस्से सूरज की गर्मी को सोख लेती है जिससे रात में भी टेंट में गर्मी बनी रहती है.

इस सोलर हीटेड टेंट प्रोटोटाइप की कीमत 5 लाख रुपए बताई गई है. वहीं सोनम ने यह भी कहा कि इसके और बेहतर वर्जन की कीमत 9 से 10 लाख रुपये तक भी हो सकती है. सोनम का दावा है कि उनके टेंट तकरीबन आधी कीमत में करीब दोगुना स्पेस के साथ ही आसान ढुलाई की सुविधा देते हैं.

सोनम का मकसद इन टेंटों को पर्यटन के उद्देश्य को भी पूरा करना है. लद्दाख के ठंडे इलाकों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए क्विक और मूवेबल जगह के लिए इन टेंटों का इस्तेमाल किया जा सकता है. सोनम की बातचीत भारतीय सेना के साथ भी चल रही है. आर्मी इन टेंटों को पैंगोंग झील के रास्ते में चांग ला पास पर टेस्ट कर सकती है. तेज़ हवाओं और कठिन मौसम के इलाके में टेस्ट के बाद आर्मी मंज़ूरी देती है तो ये सेना के उपयोग के लिए भी बनाया जायेगा..

आपने थ्री इडियट्स फिल्म देखी है, तो उसमें आमिर खान की भूमिका सोनम वांगचुक के किरदार से ही प्रेरित थी. इस किरदार का नाम रैंचो उर्फ फुंशुक वांगड़ू था.

You should see your doctor if you are concerned that the emergency contraception has not been effective and you think you may be pregnant, or if you are concerned about sexually transmitted infections STIs. cialis in malaysia As emergency contraception is not per cent effective, you should take a pregnancy test if you have any symptoms that suggest you may be pregnant.

Leave a Reply

Your email address will not be published.